रांची, जेएनएन। ओडिशा में दस्तक दे रहा साइक्लोन तितली का साया झारखंड पर भी मंडरा रहा है। मौसम विभाग के अनुसार झारखंड के दक्षिण-पूर्व क्षेत्र में इसका असर दिखेगा। बुधवार को साइक्लोन का सबसे ज्यादा असर प्रदेश के दक्षिणी और उत्तर पूर्वी हिस्से को प्रभावित करेगा। लेकिन 11 अक्टूबर को इसका असर रांची, जमशेदपुर समेत पूरे प्रदेश में देखने को मिलेगा।

इस दौरान तेज हवा के साथ रुक-रुक कर हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है। मंगलवार को जमशेदपुर में इसका असर दिखने भी लगा। दोपहर को आसमान में बादल छा गए और अधिकतम पारा 0.9 और न्यूनतम पारा 2.0 डिग्री सेल्सियस घट गया।

तीन दिनों में 75 मिमी बारिश की संभावना : बिरसा कृषि विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय अनुसंधान केंद्र, दारीसाई द्वारा जारी मौसम परामर्श बुलेटिन में जमशेदपुर में तीन दिनों में 75 मिमी बारिश होने की संभावना जताई है। 11 अक्टूबर को सर्वाधिक वर्षा के संकेत हैं।

दुर्गा पूजा पंडालों पर खतरा : बारिश और तेज हवाओं के खतरे के मद्देनजर दुर्गा पूजा की तैयारियों मे जुटे आयोजक थोड़े चिंतित हैं। रांची, जमशेदपुर समेत सभी प्रमुख शहरों में बड़े-बड़े पंडाल तैयार किए जा रहे हैं। दिन रात काम हो रहा है। ऐसे में तेज तूफान इन पंडालों को नुकसान पहुंचा सकता है। बारिश से भी नुकसान हो सकता है, अगर तेज बारिश हुई तो काम की रफ्तार पर भी असर पड़ेगा। 

Posted By: Alok Shahi