जागरण संवाददाता, राची : कोरोनावायरस से निपटने के लिए रिम्स में लगातार जूनियर डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई जा रही है। रोस्टर तैयार कर अलग-अलग शिफ्ट में जूनियर डॉक्टरों को ड्यूटी पर भेजा जा रहा है। पॉजिटिव मरीज के आते ही बुधवार को ड्यूटी रोस्टर तैयार होते ही जूनियर डॉक्टरों को फोन पर सूचना दी गई। सूचना मिलने के साथ ही जूनियर डॉक्टर बैग में अपना सामान लेकर पेइंग वार्ड पहुंचे हैं। डॉ. अजित, डॉ. महिपाल, डॉ. शक्ति, डॉ. ब्रजेश, डॉ. फिरोज, डॉ. सोमनाथ पेइंग वार्ड में मिले एक कमरे में रूके हैं। डॉ. महिपाल सिंह ने बताया कि वे लोग मरीजों के इलाज के लिए पूरी तरह तैयार हैं। सात दिनों के लिए कपड़ा और जरूरी सामान लेकर आए हैं। उन्हें अब यही रहना है। उनलोगों को पीपीई किट भी मुहैया कराई गई है। हालाकि अभी किट सीमित मात्रा में ही है, प्रबंधन की ओर से आगे और किट उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया गया है। रिम्स की नर्से भी तैयार

इधर, मेटरन ऑफिस में भी चहल पहल देखने को मिली। ड्यूटी को लेकर काफी तैयारिया चलती रही। ड्यूटी के लिए आने वाली नसरें को पास दिया गया, ताकि रिम्स पहुंचने में उन्हें किसी तरह की परेशानी ना हो। रास्ते में कोई दिक्कत हो तो पुलिस वाले को वो पास दिखा सकें। नसरें ने बताया कि थोड़े सुरक्षात्मक उपाय कम है। ऐसे में उनलोगों को अपनी चिंता सता रही है। इसके साथ ही रिम्स को सेनेटाइज करने के लिए 30 गैलन स्प्रिट रिम्स बुधवार को पहुंचा। मास्क, सैनिटाइजर व अन्य संसाधन लगातार विभागों को बाटे गए।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप