रांची, राज्य ब्यूरो। प्रदेश में बच्चियां असुरक्षित हैं। हैवानों के निशाने पर हैं। पूरे प्रदेश में लगातार ऐसी घटनाएं घट रही हैं। पिपरवार में दो बच्चियों से हैवानियत का मामला अभी शांत भी नहीं पड़ा कि रांची के सदर थाना क्षेत्र में 14 साल की छात्रा यौन उत्पीडऩ का शिकार हो गई। शिकार बनाने वाला बूटी मोड़ के समीप रहने वाला 50 वर्षीय शंकर गंझू है। वह पिछले तीन महीने से उसका न्यूड वीडियो बना रहा था और उसे वायरल करने की धमकी देकर अक्सर छेड़खानी करता था और वीडियो बनाता था।

इस घटना से परेशान होकर छात्रा ने फिनायल पीकर खुदकशी की कोशिश की। सदर पुलिस ने शनिवार की देर रात शंकर गंझू को गिरफ्तार कर लिया। उससे पूछताछ जारी है। पीडि़त नाबालिग शहर के एक प्रतिष्ठित विद्यालय की छात्रा है। उसने बताया कि शंकर गंझू पिछले तीन महीने से उसे अकेला पाकर उसे नग्न करता था और उसका वीडियो बनाता था।

शनिवार की दोपहर माता-पिता एक रिश्तेदार के देहांत होने पर गांव गए थे, बड़ी बहन भी काम से बाहर गई थी, तभी शंकर गंझू उसके घर पहुंच गया। उसने न सिर्फ उसका नग्न वीडियो बनाया, बल्कि उसने उसके शरीर को गलत तरीके से छूने की कोशिश की। उसने यह भी धमकी दी कि अगर उसने यह बात किसी को बताई तो वह वीडियो वायरल कर देगा। इतना कहकर वह चला गया। वह पिछले तीन महीने से शंकर गंझू के करतूत से परेशान हो गई थी।

अंतत: उसने शनिवार की शाम जान देने की कोशिश की। बड़ी बहन जब घर पहुंची तो छात्रा बेहोश पड़ी थी। इसके बाद छात्रा की बड़ी बहन अपने मामा के साथ मिलकर उसे रिम्स लेकर पहुंची, जहां उसका इलाज चल रहा है। घटना की सूचना पर सदर डीएसपी दीपक कुमार, सदर थानेदार वेंकटेश और बरियातू थानेदार संजीव कुमार वहां पहुंचे। छात्रा ने जैसे ही घटना के बारे में पुलिस को बताया, पुलिस की एक टीम अधेड़ शेखर गंझू को गिरफ्तार करने निकल पड़ी। देर रात उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस