रांची, राज्य ब्यूरो। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखंड के गांवों में खेल प्रतिभा छिपी पड़ी है। इसी प्रतिभा को उभारने के लिए कमल क्लब का गठन किया गया है। पंचायत से जिला स्तर पर कमल क्लब का गठन हो चुका है। ये बातें मुख्यमंत्री ने झारखंड मंत्रालय में आयोजित कमल क्लब उन्मुखीकरण कार्यशाला में कही। सीएम ने कहा कि कमल क्लब का पंजीयन सोसाइटी एक्ट के तहत कराया जा रहा है, ताकि सरकार की योजनाओं का लाभ मिल सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबी और जानकारी के अभाव में हमारे खिलाड़ी पौष्टिक आहार नहीं खा पाते हैं। मुख्यमंत्री फुटबाल आमंत्रण कप प्रतियोगिता में पंचायत, प्रखंड, जिला व राज्य स्तर पर विजेता टीम के सभी 18-19 हजार खिलाडिय़ों को पौष्टिक आहार के लिए एक-एक हजार रुपये दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनका लक्ष्य है कि झारखंड में भी राष्ट्रीय स्तर की फुटबॉल टीम बने। इसके लिए अच्छे कोच की भी नियुक्ति की जाएगी। महिला फुटबाल टीम भी हर पंचायत में बने।

सीएम ने खिलाडिय़ों के लिए हर पंचायतों में खेलकूद के मैदान बनाए जाने की भी घोषणा की। कहा, पहले चरण में हर प्रखंड के दो-दो पंचायतों में खेल के मैदान बनाए जाएंगे। इसकी शुरुआत अक्टूबर में एक साथ की जाएगी। इसकी शुरुआत संताल परगना से होगी। मैदान को तार से घेरा जाएगा। इसमें खिलाडिय़ों के लिए चेंजिंग रूम व शौचालय भी रहेगा।

खेलकूद एवं युवा कार्य मंत्री अमर कुमार बाउरी ने कहा कि झारखंड पूरे देश में एक मात्र राज्य है, जहां पंचायत स्तर तक क्लब का गठन कर और उनका निबंधन कराकर खेलकूद को बढ़ावा दिया जा रहा है। एक प्रतियोगिता में इतनी बड़ी संख्या में खिलाडिय़ों के शामिल होने के मामले में भी झारखंड ने कीर्तिमान रचा है। मौके पर विभाग के सचिव राहुल शर्मा, खेलकूद निदेशक अनिल कुमार सिंह समेत कई लोग उपस्थित थे।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप