रांची, [संजीव रंजन]। अब ना कोई दबाव और कोई घुटन, अनुच्छेद 370 क्या हटा जम्मू-कश्मीर खिलाडिय़ों के बल्ले-बल्ले हो गई है। यह बात राष्ट्रीय जूनियर खो-खो प्रतियोगिता में भाग लेने आए जम्मू कश्मीर टीम के कोच व मैनेजरों ने कही। बालक टीम के कोच सुनील शर्मा व मैनेजर साहिल कुमार हैं जबकि बालिका टीम की कोच डॉली शर्मा व मैनेजर योगेश कुमार हैं। ये लोग बुधवार से होटवार के खो-खो स्टेडियम में शुरू हुए नेशनल जूनियर खो-खो प्रतियोगिता में अपनी टीम के साथ आए हैं।

इस टूर्नामेंट में देश भर से 32 बालक व 32 बालिकाओं की टीमें भाग ले रही हैं। जम्मू कश्मीर टीम के प्रशिक्षक व मैनेजर ने मोदी सरकार द्वारा अनुच्छेद 370 समाप्त करने की प्रशंसा करते हुए कहा कि सही मायने में अब जम्मू कश्मीर स्वतंत्र हुआ है। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 की बदौलत कुछ परिवारों का राज चल रहा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे समाप्त कर बहुत बड़ा काम किया है। सच बात तो यह है कि जम्मू कश्मीर अब पूर्ण स्वतंत्र हुआ है। 

पहले केंद्र से खेल के लिए भी जो राशि आती थी उसे भी दीमक की तरह चाट जाते थे। लेकिन पिछले डेढ़ महीने में ही काफी कुछ बदला-बदला नजर आने लगा है। टीम के आने जाने में पहले पाबंदी लगी रहती थी वह अब नजर नहीं आ रहा है। बालक टीम के कोच सुनील शर्मा ने बताया कि अनुच्छेद 370 का लाभ कश्मीर में बैठे चंद लोग ही उठा रहे थे। अब इस पर अंकुश लगा है।

पिछले 70 साल में खेल के नाम पर करोड़ों रुपये आए लेकिन आधारभूत संरचना तक तैयार नहीं की गई। अब आस जगी है और माहौल भी बन रहा है। खिलाडिय़ों में खुशी की लहर है। इसका असर जल्द ही देखने को मिलेगा। यह पूछे जाने पर कश्मीर की क्या स्थिति है साहिल कुमार ने बताया कि आमलोगों को बरगलाने का काम कुछ लोग कर रहे हैं। जिनका राजनीति ही इसके दम पर चलती थी वो कैसे इसे बर्दाश्त कर सकते हैं। उन्हें ही ज्यादा परेशानी है। धीरे-धीरे सब कुछ नार्मल हो जाएगा।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप