दिलीप कुमार, रांची : राष्ट्रीय जूनियर स्तर के खेल में अपनी प्रतिभा की बदौलत गोल्ड जीतने वाले झारखंड के पांच खिलाड़ी अपने ही राज्य में नौकरी पाने में क्लीन बोल्ड हो रहे हैं। इन खिलाड़ियों ने चीन और वियतनाम में भी पदक जीत देश को गौरवान्वित किया था। आश्वासन था कि राष्ट्रीय व अतंरराष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतने वालों को सरकारी नौकरी मिलेगी, उम्मीद थी कि पदक जीतकर लौटने के बाद उन्हें तुरंत सरकारी नौकरी मिल जाएगी। इन खिलाड़ियों ने पुलिस विभाग में नौकरी के लिए आवेदन भी दिया, लेकिन अब तक ये नौकरी के लिए कड़ी मशक्कत ही कर रहे हैं। इनके आवेदन पर अभी सरकार विचार ही कर रही है। जूनियर लेवल पर सोना की चमक बिखेरने वाले ऐसे होनहारों को अब भी अपनी पहचान का रोना है। ये खिलाड़ी हैं रामदेव तिग्गा, विजय लकड़ा, प्रियंका केरकेट्टा, अनुरूपा कुमारी व सपना कुमारी। इन होनहारों ने एडीजी जैप से झारखंड पुलिस में नौकरी दिलाने का आग्रह किया था। साई सैंग सेंटर के इन पांच खिलाड़ियों ने अपने अनुरोध पत्र में उपलब्धियों का ब्योरा भी दिया था। झारखंड को गौरवान्वित करती इनकी उपलब्धियों को देखते हुए एडीजी जैप रेजी डुंगडुंग ने डीजीपी डीके पांडेय सहित खेल मंत्रालय से भी पत्राचार किया था, फिलहाल यह मामला ठंडे बस्ते में दिख रहा है। विभाग की इस उदासीनता से कुछ पदाधिकारी सशंकित हैं कि उनकी 'सोने की यह चमक' कहीं दूसरे विभाग की शरण में न चल जाए। इसे लेकर लगातार पत्राचार जारी है, परिणाम अभी जस का तस है।

-------

एडीजी ने पुलिस मुख्यालय से जो लिखा था पत्र :

एडीजी जैप रेजी डुंगडुंग ने तीन जुलाई को झारखंड पुलिस मुख्यालय को पत्र लिखा था। उन्होंने बताया था कि राज्य के इन पांच उदीयमान खिलाड़ियो ने अपनी उपलब्धियों का दावा करते हुए झारखंड पुलिस में नियुक्ति के लिए अनुरोध किया था। ये पांचों खिलाड़ी प्रतिभावान हैं। पिछले दो-तीन वर्षो में राष्ट्रीय स्तर पर जूनियर लेवल में कई प्रतिस्पद्र्धाओं में झारखंड का नाम रौशन किया है, स्वर्ण पदक तक दिलाया। भविष्य में सीनियर व राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर तक की प्रतियोगिताओं में ये अच्छा कर सकते हैं। इन्हें झारखंड पुलिस में नियुक्त किया जा सकता है। इसकी प्रतिलिपि उन्होंने खेल विभाग के सचिव राहुल शर्मा व गृह विभाग के प्रधान सचिव को भी भेजी थी।

---------

23 जून को सम्मानित भी हो चुके हैं ये खिलाड़ी :

पांचों खिलाड़ी 23 जून 2017 को 13वें झारखंड राज्य स्तरीय पुलिस खेलकूद प्रतियोगिता के समापन समारोह में सम्मानित भी किए जा चुके हैं। तब मुख्य अतिथि कला संस्कृति, खेलकूद एवं युवा कार्य विभाग के मंत्री अमर बाउरी व सचिव ने उनकी सराहना भी की थी और उन्हें झारखंड में ही नौकरी देने के लिए सहमति दी थी, ताकि ये प्रतिभाएं झारखंड का प्रतिनिधित्व कर सकें।

------------------

मैंने पांच खिलाड़ियों को झारखंड पुलिस में नियुक्त करने संबंधी अनुशंसा की है। ये पांचों खिलाड़ी झारखंड की शान हैं। अब विभाग की हरी झंडी का इंतजार है।

रेजी डुंगडुंग, एडीजी जैप, झारखंड।

-----------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस