रांची, जासं । कोरोना संक्रमण के संकट में लोग कालाबाजारी से बाज नहीं आ रहे। आए दिन दवाओं और इलाज में काम आने वाले उपकरणों की ऊंची कीमतों में बिक्री के मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच पुलिस ने भी सख्ती शुरू कर दी है। रांची के कोतवाली इलाके के एक दुकानदारों को पुलिस ने दबोचा है जो तय कीमत से चार से छह गुना ज्यादा कीमत में आक्सीजन फ्लोमीटर की कालाबजारी कर रहे थे।

इसकी जानकारी मिलने के बाद कोतवाली एएसपी मुकेश कुमार लुनायत ने श्रद्धानंद रोड और किशोरगंज इलाके की ड्रग एजेंसी में शनिवार को छापेमारी की। इस दौरान पुलिस की टीम ने पांच दुकानों में छापेमारी कर उसके संचालकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार होने वाले संचालकों में किशोरगंज के गणेश कर्मकार, सुधांशू कुमार, वर्तिका लाल, ब्रज किशोर तिवारी शामिल है। बताया जा रहा है कि उक्त दुकानदारों 100-1200 में मिलने वाली ऑक्सीजन फ्लोमीटर पांच से साढ़े सात हजार रुपये में बेच रहे थे। इन दुकानदारों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। उन्हें जेल भेजा जाएगा।

ऊंची कीमतों पर बिक्री की शिकायत पर खुद छापेमारी में निकल पड़े एएसपी

कोतवाली एएसपी मुकेश कुमार लुनायत से एक महिला ने शिकायत की थी कि श्रद्धानंद रोड में स्थित मां भवानी ड्रग एजेंसी ऑक्सीजन फ्लो मीटर की कालाबाजारी कर रहा है। इसके एवज में कोई बिल भी नहीं दिया जा रहा। जिस फ्लोमीटर की बाजार में कीमत मात्र 1000 से 1200 रुपये है उसे मां भवानी एजेंसी में 5 हजार रुपये में बेचा जा रहा है। महिला की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कोतवाली एएसपी ने दवा दुकानदार को रंगे हाथ पकड़ने का प्लान बनाया, मामले की जानकारी स्थानीय मजिस्ट्रेट को दी गई ताकि उनकी उपस्थिति में आरोपित को गिरफ्तार किया जा सके। इसी बीच महिला मां भवानी ड्रग एजेंसी में दोबारा पहुंची और दुकानदार से दो ऑक्सीमीटर मांगा , दो ऑक्सीमीटर के एवज में दुकानदार ने महिला से 10 हजार रुपये लिए महिला ने पैसे का भुगतान ऑनलाइन गूगल पे से किया। ताकि पैसे के लेन देन का सबूत मिल सके। जैसे ही महिला ने ऑनलाइन भुगतान किया पास में ही खड़े सादे लिबास में एएसपी और मजिस्ट्रेट ने पुलिसकर्मियों को बुलाकर दुकानदार को धर दबोचा।

कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ लगातार होगी कार्रवाई

कोतवाली एएसपी ने कहा कि रांची में सबसे अधिक दवाई की दुकानें और दवाई की होलसेल दुकानें कोतवाली थाना क्षेत्र में पढ़ती है। कालाबाजारी की लगातार शिकायत मिल रही थी। इसके बाद कार्रवाई की गई। पुलिस ने आम लोगों से यह अपील की है कि उन्हें कहीं भी कालाबाजारी की सूचना मिलती है तो वह बेधड़क पुलिस को सूचना दें ताकि इस महामारी के समय जो आपदा को अवसर बनाने में लगे हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सके।