रांची : नगड़ी चौक पर गुरुवार की रात बवाल मचाने में शामिल 24 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। 12 को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने नगड़ी समेत शहर के अन्य इलाकों में उपद्रव मचाने वालों पर बड़ी कार्रवाई शुरू कर दी है। उपद्रवियों को चुन-चुन कर गिरफ्तार किया जा रहा है। एसएसपी कुलदीप द्विवेदी के निर्देश पर नगड़ी थानेदार ने देर रात छापामारी कर सभी को गिरफ्तार किया। एक टीम बनाकर इलाके में उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है।

एसएसपी ने बताया कि किसी भी शहर का माहौल बिगाड़ने वालों को किसी कीमत पर नहीं बख्शा जाएगा। सभी लोगों की गिरफ्तारी होकर रहेगी। इसके अलावा उन्होंने आम लोगों से अफवाहों से बचने की अपील की है। कहा कि अफवाहों पर ध्यान नहीं देते हुए ऐसे असामाजिक तत्वों की मंशा को नाकाम करने में पुलिस का सहयोग करें। सभ्य समाज में अमन पसंद नागरिक बन कर रहें और भाईचारे का परिचय दें।

दो समुदाय थे आमने-सामने, सात राउंड हुई थी फाय¨रग

नगड़ी चौक पर गुरुवार की रात करीब 9:30 बजे दो समुदायों के युवकों के बीच हुई झड़प के बाद माहौल तनावपूर्ण हो गया था। दोनों ओर से पथराव शुरू हाने के बाद जमकर बवाल काटा था। सात राउंड फाय¨रग भी की गई थी। पथराव से दोनों ओर से दर्जन भर लोगों के घायल भी हुए थे। घटना की सूचना मिलने पर वहां पहुंच कर नगड़ी थानेदार समेत कई थानों की पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ा था। स्थिति को देखते हुए डीसी-एसएसपी, एसडीओ, ग्रामीण एसपी समेत कई अधिकारी पहुंचे थे। इसके बाद रात के समय इलाके में फ्लैग मार्च कर शांति की अपील की गई थी। नगड़ी का विवाद एक घंटे के बाद इटकी पहुंच गया था। वहां उपद्रवियों ने बवाल काटा था। तोड़फोड़ की थी। धार्मिक स्थल पर मांस मिलने पर हुआ था बवाल

12 जून को नगड़ी के देवरी स्थित एक धार्मिक स्थल पर मांस मिलने के बाद दो समुदायों के लोगों ने नगड़ी चौक पर खूब बवाल काटा था। पथराव व तोड़फोड़ की गई थी। दोनों समुदायों के लोग दो छोरों से पथराव कर रहे थे। पथराव के बीच पुलिस फंसी थी। कई राहगीरों से मारपीट और वाहनों में तोड़फोड़ हुई थी। अमनपसंदों ने ही पुलिस की तत्परता के बीच माहौल को संभाला था। इस मामले में भी नगड़ी में प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस इस पर कार्रवाई कार्रवाई कर रही है।

Posted By: Jagran