लायंस क्लब ऑफ रांची ईस्ट पिछले तीन दशकों से रांची की सतत सेवा और विकास में जुटा है। स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान से लेकर जरूरतमंदों को बुनियादी और बेहतर सेवाएं उपलब्ध कराने में क्लब निरंतर प्रयासरत है। रांची में चल रहे लायंस क्लब की 14 विंग में यह सबसे पुरानी और सबसे अधिक सदस्यों वाली है। हमारे सभी सदस्य वॉलेंट्री तौर पर सेवा में लगे हैं और शहर समेत आसपास के प्रखंडों, गांवों में भी हमारे सेवाकार्य चल रहे हैं। लोगों को जागरूक करने से लेकर गांवो को गोद लेकर उनका विकास करने का काम भी अनवरत जारी है।

निःशुल्क व कम शुल्क में चिकित्सा सेवा उपलब्ध करा रहा निरामया अस्पताल
लायंस क्लब ऑफ रांची ईस्ट की ओर से इंडस्ट्रियल एरिया कोकर में चलाया जा रहा निरामया अस्पताल गरीबों का जहां निःशुल्क इलाज करता है वहीं सक्षम लोगों के लिए भी यहां बहुत कम शुल्क में बेहतर सेवाएं उपलब्ध हैं। कई सेवाएं पूरी तरह निःशुल्क हैं। चिकत्सक बगैर किसी मुनाफे के सेवा भाव से यहां मरीजों का उपचार करते हैं।

मोतियाबिंद के ऑपरेशन और कृत्रिम अंग लगाने की स्थायी रूप से निःशुल्क सेवा
क्लब की ओर से पूरे शहर में कैंप लगाकर नियमित और स्थायी तौर पर अक्टूबर से फरवरी के बीच मोतियाबिंद के निःशुल्क ऑपरेशन कराए जाते हैं। कैंप के अतिरिक्त कोई भी निरामया अस्पताल आकर भी यह सेवा ले सकता है। इसमें जांच और ऑपरेशन करनेवाले डॉक्टर भी सेवा भाव से अवैतनिक तौर पर अपनी सेवा देते हैं। मरीजों को दवाइयां भी निःशुल्क दी जाती हैं। इसके अलावा कृत्रिम अंग लगाने की सेवा भी पूरी तरह निःशुल्क है। दुघर्टना या अन्य किसी कारण से अपना अंग खो चुके लोगों के लिए यह बड़ी राहत है।

निःशुल्क टीकाकरण के क्षेत्र में शानदार काम
क्लब की ओर से बच्चों को पोलियो खुराक व अन्य नियमित टीके लगातार लगाए जाते हैं। निरामया अस्पताल के अलावा घरों मुहल्लों में घूम-घूमकर व शिविर लगाकर टीकाकरण किया जा रहा है। अभी मिजल्स रूबैला टीकाकरण का अभियान जोर-शोर से चल रहा है। शहर के दर्जनों स्कूलों में अबतक क्लब की ओर से बच्चों को टीके लगाए जा चुके हैं। लोगों को जागरूक करने के लिए लगातार रैली भी निकाली जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रमों में भी हमारा सहयोग रहता है।

सालोभर पानी, ठंड में अलाव और कंबल
लायंस क्लब की ओर से प्यासों को पानी पिलाने के लिए जगह जगह प्याऊ लगवाए गए हैं। फिरायलाल चौक पर एक स्थायी प्याऊ है जहां सालो भर लोगों के लिए बगैर किसी शुल्क के शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाता है। इसके अलावा गर्मी के दिनों में अस्थाई प्याऊ भी लगवाए जाते हैं। जाड़े के दिनों में अलाव जलाने व कंबल वितरण के कार्यक्रम भी लगातार चलते हैं।

सबको शिक्षा दिलाने की दिशा में काम
क्लब की ओर से बच्चों की शिक्षा खासकर गरीब बच्चों की शिक्षा पर काफी ध्यान दिया जाता है। शहर के कोकर स्थित के मल्लिक स्कूल में बच्चों के लिए लगातार पठन-पाठन सामग्री, ब्लैक बोर्ड, किताबें, स्कूल बैग और जरूरत के सामान उपलब्ध कराए जाते हैं। संत मिखाइल नेत्रहीन विद्यालय में भी बच्चों को यथासंभव सुविधाएं और जरूरत के सामान बच्चों को उपलब्ध कराने का काम क्लब कर रहा है। बीच-बीच में बच्चों के सर्वांगीण व्कास के लिए प्रतियोगिताओं का आयोजन भी कराया जाता है। बच्चों के लिए स्कूलों में आइ चेकअप कैंप का भी आयोजन कराया जाता है।

गांवों को गोद लेकर विकसित करने का काम
क्लब गांवों को गोद लेकर उन्हें विकसित कराने के काम भी जुटा है। रांची के पास डुमरी गांव को गोद लेकर कुछ काम कराए जा रहे हैं। कुछ अन्य गांवो को भी गोद लेकर वहां स्कूल, अस्पताल, पेयजल, शौचालय समेत विभिन्न सुविधाओं लोगों को उपलब्ध कराने की योजना है। आने वाले दिनों में कौशल विकास के माध्यम से महिलाओं और युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में भी काम होने हैं।

स्वास्थ्य जांच, दवा वितरण व ऑपरेशन के लिए सालो भर क्लब लगाता है ये शिविर
नेत्र जांच
मोतियाबिंद ऑपरेशन
कृत्रिम अंग
कुष्ठरोगियों की जांच व दवा वितरण
टीबी की जांच व वितरण
रेबीज टीकाकरण
बच्चो के लिए स्कूलों में आइ चेकअप कैंप

ये काम भी हैं अहम
सड़क किनारे जगह-जगह यात्री शेड
एनएच किनारे फर्स्ट एड सेंटर
लेप्रोसी क्योर सेंटर
अल्बर्ट एक्का चौक पर स्थायी प्याऊ

By Gaurav Tiwari