रांची, जासं। विधानसभा चुनाव से पहले नक्सलियों  ने बुढ़मू इलाके में दीवार लेखन कर दहशत फैलाने की साजिश की है। इलाके के कई दीवारों पर दीवार लेखन कर  चेतावनी दी है और कहा है पुलिस की दलाली बंद करो। बुढ़मू थाना क्षेत्र के कंडेर और उमेडंडा बाजार टाँड़ के दीवारों पर दीवार लेखन की गई है इससे इलाके में दहशत का माहौल है।  हालांकि पुलिस इसे असामाजिक तत्वों की शरारत मान रही है। घटना के बाद बुढ़मू थानेदार लालजी यादव सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और इसकी जांच की।

दीवार पर क्या लिखा है माओवादियों ने

उमेडंडा में माओवादियों ने दीवार  लेखन कर कहा  है कि पुलिस की दलाली बंद करो। अपराध के अनुसार सजा लागू करें। प्रति क्रांतिकारी गुंडागिरी को ध्वस्त करें। इससे पहले भी बुडमो इलाके में माओवादियों और टीपीसी उग्रवादियों की गतिविधि तेज रही है। फिलहाल पुलिस यह पता लगाने में जुट गई है कि दीवार लेखन किसके द्वारा किया गया है।

पहले भी हो चुकी है दहशत फैलाने की साजिश

  1. 25 मार्च राजधानी रांची के बरियातू थाना क्षेत्र में कई जगहों पर माओवादियों के नाम से पोस्‍टर चिपकाए गए थे। इसमें पोस्टर बाजी कराने में महाराजा प्रमाणिक कहां सामने आया था।
  2. 3 अप्रैल बुंडू थाना क्षेत्र के  ब्लॉक रोड व काली मंदिर चौक सहित अन्य स्थानों पर की गयी है। इस मामले में भी महाराजा प्रमाणिक के द्वारा पोस्टर बाजी करवाने की बात सामने आई थी।
  3. 12 अप्रैल पश्चिमी सिंहभूम के गोइलकेरा थाना क्षेत्र के कुइडा गांव में आईईडी विस्फोट कर वन विभाग के तीन भवनों को ध्वस्त कर दिया था। 
  4. 2 मई 2019 को सरायकेला जिला के खरसावां थाना क्षेत्र में देर रात बीजेपी का चुनावी दफ्तर को उड़ाया गया था।
  5. 20 मई सरायकेला जिला के खरसावां थाना के हुरंगदा जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ तीन जवान  घायल हो गए थे इस घटना में महाराजा प्रमाणिक के दोस्ती के द्वारा घटना का अंजाम दिया गया था।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप