मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रांची, जेएनएन। रांची के बेड़ो में जबरन धर्मांतरण कराकर निकाह करने और फिर तीन तलाक देने के मामले में पीड़ित युवती को सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया। अदालत में 164 के तहत युवती का बयान दर्ज कराया गया। दंडाधिकारी शिल्पा मुर्मू की अदालत में बंद कमरे में युवती का बयान लिया गया। अब पुलिस उससे आगे की पूछताछ करेगी। इस मामले में आरोपी अभी पकड़ा नहीं गया है। बेड़ो में रहने वाली एक युवती ने राजमहल के महियाल निवासी अबुल कैश उर्फ सोनू उर्फ काजू के खिलाफ धर्मांतरण कर निकाह करने और अब तीन तलाक देकर छोड़ देने का आरोप लगाया है।

इसे लेकर बेड़ो थाने में एफआइआर दर्ज कराई गई है। युवती ने एफआइआर में कहा है कि अबुल कैश ने खुद को हिंदू बताकर उससे दोस्ती की थी और बाद में निकाह कर उसका धर्मांतरण करा दिया। विवाह से पहले अबुल कैश ने अपना नाम सोनू बताया था। 2013 में युवक से उसकी दोस्ती रांची में एक संस्था में नौकरी के दौरान हुई थी। पीड़िता ने प्राथमिकी में कहा है कि अबुल कैश उसे बुरका पहनाकर डोरंडा मनीटोला निवासी शहर काजी कारी जान मोहम्मद के पास ले गया और वहां निकाह के नाम पर धर्मांतरण करा दिया गया।

इसके बाद उसके नाम के आगे परवीन जोड़ दिया गया। इसके बाद युवक युवती को प्रताडि़त करने लगा, उसके साथ बलात्कार किया। युवती को जबरदस्ती मांस भी खिलाया। युवती ने कहा है कि युवक ने उसकी आपत्तिजनक वीडियो और फोटो भी बना ली थी। इसके जरिये वह उसे ब्लैकमेल करता रहा।

यह भी पढ़ें : प्यार में धर्मांतरण का धोखा...युवती का धर्म बदलवाकर किया निकाह, फिर दे दिया तीन तलाक

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप