लोहरदगा, जेएनएन। CAA Support तिरंगा यात्रा के दौरान गुरुवार को पत्थबाजी की घटना के बाद लोहरदगा में हिंसा और बवाल की घटना के बाद लगे कर्फ्यू के दौरान सोमवार की रात  ट्रक में आगजनी कर लोहरदगा में एक बार फिर से हिंसा भड़काने की कोशिश की गई। जिसके कारण प्रशासन ने छठे दिन मंगलवार को कर्फ़्यू में कोई ढील नहीं दी। जिसके कारण लोगों को एक बार फिर से परेशान होना पड़ेगा। सोमवार को पांचवें दिन कर्फ्यू में दो घंटे की छूट मिलने के बाद ट्रक में आगजनी की घटना के बाद देर रात वरीय पदाधिकारियों द्वारा प्रशासनिक तौर पर स्थिति की समीक्षा के बाद छठे दिन मंगलवार को कर्फ्यू में ढील नहीं देने का निर्णय लिया गया।

इधर 23 जनवरी को हिंसक वारदात की घटना में पुलिस 100 से भी ज्यादा लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। जिसके बाद मामले में शामिल 16 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तारी दिखाई है। इनमें कर्फ्यू के दौरान हथियार के साथ गिरफ्तार एक युवक को पुलिस पहले हीं जेल भेज दी है, शेष गिरफ्तार लोगों को सदर थाना पुलिस मंगलवार को जेल भेजेगी।

बता दें कि लोहरदगा में हिंसा-वारदात की घटना के बाद रविवार को तीसरे दिन शहर के साथ सदर और सेन्हा प्रखंड में आधे घंटे तथा जिले के अन्य प्रखंडों में जारी कर्फ्यू में दो घंटे का छूट मिला था। जिसमें सब कुछ सामान्य रहने पर घटना के पांचवें दिन सोमवार को पुलिस-प्रशासन की ओर लोगों के लिए कर्फ्यू में दो घंटे की छूट दी थी। जिससे कि लोग अपने-अपने दैनिक उपयोग और जरूरत के सामाग्री खरीद पाएं।

पुलिस-प्रशासन के अधिकारी वर्तमान हालात और स्थिति की समीक्षा कर छठे दिन कर्फ्यू में ज्यादा समय के लिए ढील देने पर मंथन कर हीं रहे थे कि, अचानक से सोमवार की रात शहर के पतराटोली में उपद्रवियों द्वारा ट्रक में आगजनी की घटना को अंजाम देकर लोहरदगा में फिर से हिंसा भड़काने की कोशिश की गई। जिसके बाद प्रशासन ने छठे दिन कर्फ़्यू में कोई ढील नहीं देने का निर्णय लिया।

अब वरीय पदाधिकारियों द्वारा  सभी पहलुओं पर समीक्षा और शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों के हालात का आंकलन कर प्रशासन कर्फ़्यू में आगे छूट की अवधि बढ़ाने का निर्णय लेगी। लोहरदगा में दिन प्रतिदिन उपजे नए हालात के बाद वर्तमान स्थिति पर सबकुछ निर्भर करता है।

कर्फ़्यू के कारण आज भी बंद रहेंगे लोहरदगा के सभी स्कूल-कालेज

लोहरदगा में कर्फ़्यू के मद्देनज़र ज़िले के सभी सरकारी और गैर-सरकारी कालेज एवं स्कूल 28 जनवरी को बंद रहेंगे। इसकी जानकारी जिला शिक्षा पधाधिकारी रतन महावर ने दी। उन्होंने यह भी कहा कि स्कूल-कालेज 28 जनवरी के बाद निरंतर संचालित करने की जानकारी समय से विद्यालय प्रबंधन को उपलब्ध करा दी जाएगी। बता दें कि लोहरदगा में 23 जनवरी को निकले तिरंगा यात्रा के दौरान उपद्रवियों द्वारा पत्थरबाज़ी की घटना के बाद उपजे विवाद के कारण लोहरदगा में कर्फ़्यू लगा दी गई। जिसके बाद जिला प्रशासन के आदेश पर डीईओ ने 24-25 जनवरी को ज़िले के सभी सरकारी और गैर-सरकारी स्कूल-कालेज को बंद की घोषणा कर दी थी।

26 जनवरी को शहर के साथ सदर व सेन्हा प्रखंड में आधे घंटे की और जिले के अन्य सभी प्रखंड में झंडोत्तोलन के लिए कर्फ़्यू में ढील दी गई थी। इस दौरान सभी स्कूल-कालेज में झंडोत्तोलन किया गया। डीईओ के आदेश के बाद 27 जनवरी को सभी स्कूल-कालेज बंद रही जिसके बाद 28 जनवरी को फिर से सभी स्कूल-कालेज बंद रखने की घोषणा की गई है।

यहां देखें मंगलवार, 28 जनवरी की ताजा तस्‍वीरें

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस