रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। Jharkhand Lockdown बेकाबू हो रहे कोरोना वायरस संक्रमण पर नियंत्रण के लिए झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन लागू किया गया है। यह गुरुवार शाम साढ़े छह बजे से प्रभावी होगा। सीएम हेमंत सोरेन ने मंगलवार को इस बड़े फैसले का एलान किया। इधर लॉकडाउन पर मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन की सरकार में शामिल कांग्रेस नेताओं के अलग-अलग बयान सामने आ रहे हैं। एक धड़ा लाॅकडाउन लागू होने पर संतोष जता रहा है, तो प्रदेश अध्‍यक्ष रामेश्वर उरांव कोरोना वायरस से बचने के लिए अब भी बीच का रास्ता ढूंढ़ रहे हैं। झारखंड कांग्रेस लाॅकडाउन के मसले पर पूरी तरह कंफ्यूजन में दिख रही है।

यहां जितने नेता, लाकडाउन पर उतने अलग- अलग राग अलाप रहे हैं। इस बीच सरकार के वरीय अधिकारियों ने लॉकडाउन की अटकलों को सही बताया है। वरिष्‍ठ अफसरों ने दैनिक जागरण संवाददाता को बताया कि लॉकडाउन लगाने पर सीएम हेमंत सोरेन गंभीरता से विचार कर रहे हैं। संभव है कि आज वे बड़ा एलान करें। झारखंड सरकार में कांग्रेस कोटे से वित्‍त मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि उन्होंने सीएम से संपूर्ण लॉकडाउन लगाने के बदले कोई बीच का रास्ता निकालने का आग्रह किया है।

कांग्रेस कोटे के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्ना गुप्ता ने राज्‍य में 29 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने की जानकारी दी है। बता दें कि इससे पहले कांग्रेस के कार्यकारी अध्‍यक्ष राजेश ठाकुर ने झारखंड में लॉकडाउन लगाने की मांग मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन से की थी। उन्‍होंने एहतियात के तौर पर राज्‍य के अलग-अलग हिस्‍सों में लॉकडाउन लागू करने का सुझाव दिया था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप