रांची, जासं। Lalu News, Lalu Yadav News, Lalu Yadav Health Update, Lalu Prasad Yadav राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तबीयत बिगड़ने के बाद लालू परिवार समेत राजद में चिंता बढ़ गई है। शुक्रवार को तेजस्‍वी यादव, राबड़ी देवी और बेटी मीसा भारती लालू को देखने रांची के रिम्‍स पहुंचे। सभी लालू का ख्‍याल रख रहे हैं। आज सबसे पहले लालू से मिलने बड़ी बेटी राज्‍यसभा सदस्‍य मीसा भारती पहुंचीं। उसके बाद छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव और पत्‍नी राबड़ी देवी रिम्‍स आई हैं।

चारा घोटाला में रांची के होटवार जेल में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तबीयत अचानक बिगड़ गई है। उन्‍हें सांस लेने में परेशानी हो रही है। चेहरे में सूजन है। फेफड़े में संक्रमण और निमोनिया की शिकायत है। रिम्‍स अस्‍पताल के निदेशक डॉ कामेश्‍वर प्रसाद ने फिलहाल लालू की हालत स्थिर बताई है। उन्‍हें चिकित्‍सकों की गहन निगरानी में रखा गया है। इससे पहले गुरुवार शाम 7 बजे रिम्‍स के पेइंग वार्ड में भर्ती लालू की हालत बिगड़ते ही पूरा अस्‍पताल अलर्ट मोड में आ गया। झारखंड सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता भी उन्‍हें देखने पहुंचे। जेल आइजी समेत रिम्‍स अस्‍पताल का पूरा अमला लालू की देखरेख में जुटा रहा। लालू की सेहत को लेकर रिम्‍स प्रबंधन एम्‍स, दिल्‍ली के विशेषज्ञ डॉक्‍टरों के संपर्क में है।

इधर लालू प्रसाद यादव की हालत बिगड़ने के बाद उनके छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव भी लगातार संपर्क में हैं। उन्‍होंने रिम्‍स के डॉक्‍टरों से पिता की सेहत को लेकर बात की है। लालू के बेहतर इलाज के लिए वे प्रयासरत हैं। बिहार पटना में भी राजद नेता-कार्यकर्ता लालू की सेहत काे लेकर फिक्रमंद हैं। जानकारी के मुताबिक लालू यादव की तबीयत गुरुवार देर शाम अचानक बिगड़ गई। इसके बाद पूरे अस्‍पताल में हड़कंप मच गया। लालू की तबीयत बिगड़ने की जानकारी मिलते ही पूरे अस्‍पताल परिसर में राजद नेता- कार्यकर्ताओं का हुजूम जुट गया। सभी अपने चहेते लालू की हालत में सुधार के लिए देर रात तक ईश्‍वर से प्रार्थना करते रहे। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव फिलहाल सांस नहीं ले पा रहे। उनके चेस्‍ट-लंग्‍स में इन्फेक्‍शन और निमोनिया की शिकायत है।

लालू की तबीयत अचानक बिगड़ी, फिलहाल स्थिति नियंत्रण में

रिम्स के पेइंग वार्ड में इलाजरत राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को सांस लेने में परेशानी के बाद डाक्टरों ने आनन-फानन में कोविड जांच समेत उनके फेफड़े व छाती की भी कई जांच कराई है। एंटीजेन किट से हुई जांच में लालू की कोविड रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि आरटीपीसीआर की जांच रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। वहीं, फेफड़े में संक्रमण की आशंका को देखते हुए शुक्रवार को उनका एचआर सिटी कराया जाएगा। 

एक्स-रे में छाती में इंफैक्शन नजर आने के बाद रिम्स के चिकित्सकों ने एम्स के चिकित्सकों से परामर्श लिया है। जेल आइजी वीरेंद्र भूषण ने मीडिया को बताया कि लालू प्रसाद की तबीयत बिगडऩे की सूचना मिलने के बाद रिम्स के चिकित्सक डा. उमेश प्रसाद और उनकी टीम ने उनका इलाज किया। इस दौरान कोविड 19, ईसीजी, ईको, ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर, एक्स-रे समेत कई जांच की गई। एक्स-रे में छाती में थोड़ा इंफैक्शन दिखा है। रात 10 बजे के बाद लालू प्रसाद की सेहत में सुधार दिखा है। झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने भी रिम्स पहुंच कर लालू का हालचाल पूछा।

लालू की तबीयत बिगड़ने की जानकारी होने के बाद रिम्‍स डायरेक्‍टर कामेश्‍वर प्रसाद मौके पर पहुंचे। उन्‍होंने लालू की हालत स्थिर बताया है। कहा कि शाम 7 बजे लालू की तबीयत अचानक बिगड़ गई। इसके बाद डा. उमेश प्रसाद व डा. डीके झा उनका इलाज कर रहे हैं। रिम्स निदेशक ने फेफड़े में संक्रमण और निमोनिया की पुष्टि की है। लालू की हालत को लेकर एम्स, दिल्‍ली के चिकित्सकों से परामर्श किया जा रहा है। शुक्रवार को लालू का एचआर सीटी स्‍कैन कराया जाएगा।

लालू को सांस लेने में परेशानी, चेस्ट एक्सरे में दिखा माइनर इंफेक्शन

रिम्स के पेइंग वार्ड में इलाजरत चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तबीयत बिगड़ने के बाद नर्सों ने फौरन इसकी सूचना वरीय चिकित्सकों को दी। करीब 7 बजे डा. उमेश प्रसाद पेइंग वार्ड पहुंचे और उनका इलाज शुरू किया। बताया गया कि लालू को सांस लेने में अचानक परेशानी होने लगी। आनन-फानन में ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर आदि जांच की गई, जिसमें सभी नॉर्मल देखा गया। इंफेक्शन के संदेह में चेस्ट का एक्सरे किया गया। जिसमें इंफेक्शन भी देखने को मिला है। लालू की कोरोना वायरस जांच भी की गई।

एम्स के चिकित्सक से लिया जा रहा परामर्श

कोरोना संक्रमण को देखते हुए तुरंत जांच के लिए सैंपल दिया गया। एंटीजेन किट से तो रिपोर्ट निगेटिव आई है लेकिन आरटी-पीसीआर की रिपोर्ट आनी बाकी है। खबर लिखे जाने तक डा. उमेश प्रसाद व डा. डीके झा उनके इलाज में डटे रहे। जबकि रिम्स के चिकित्सा अधीक्षक भी पेइंग वार्ड में उपस्थित रहे। रिम्स निदेशक डॉ कामेश्वर प्रसाद ने चेस्ट में इंफेक्शन की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि ऐम्स नई दिल्ली के चिकित्सकों से सामंजस्य बनाया जा रहा है। एक बार ऐम्स के चेस्ट रोग विशेषज्ञ ने लालू प्रसाद का हैल्थ रिव्यू भी किया है। उनका इलाज चल रहा है।

लालू का हेल्‍थ अपडेट बताते रिम्स डायरेक्टर डॉ कामेश्‍वर प्रसाद।

बन्ना गुप्ता भी पहुंचे थे हाल लेने, जेल के अधिकारी भी मौजूद

इधर, लालू  प्रसाद के बिगड़ते तबीयत की सूचना पाकर सूबे के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता भी पेइंग वार्ड में उनका हाल जानने पहुंचे। करीब आधे घंटे वार्ड में रुकने के बाद वे वापस लौट गए। हालांकि पेइंग वार्ड से निकलते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने पेइंग वार्ड आने का कारण कुछ और बताया। कहा वे औचक निरीक्षण करने पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि लालू प्रसाद के बिगड़े स्वास्थ्य की उन्हें कोई जानकारी नही है। जेल के भी कई अधिकारी अस्पताल पहुंच चुके है।

लालू यादव की तबीयत के बारे में जानकारी देते जेल आईजी वीरेंद्र भूषण।

स्थिति बिगड़ने पर आईसीयू में शिफ्ट करने को जेल प्रशासन पूरी तरह तैयार

जेल आईजी वीरेंद्र भूषण ने मीडिया को बताया कि लालू प्रसाद की तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। सूचना मिलते ही तुरंत डॉ उमेश प्रसाद और उनकी टीम ने रिम्स पहुंचकर उनका इलाज शुरू किया। ईसीजी, इको, एक्स-रे समेत कई तरह के जांच किए गए। इको और ईसीजी की रिपोर्ट तो नॉर्मल आई, जबकि एक्स-रे में इंफेक्शन देखा गया। रिम्स के चिकित्सकों ने एम्स नई दिल्ली के चेस्ट रोग विशेषज्ञ से परामर्श लिया। वहां के चिकित्सकों ने भी रिम्स के चिकित्सा को बेहतर बताया। वीरेंद्र भूषण के अनुसार, रात 10 बजे के बाद लालू प्रसाद की सेहत में थोड़ा सुधार हुआ है। लालू प्रसाद ने खुद से कुर्सी में बैठ चाय की चुस्की ली है।

जेल आईजी ने कहा अगर देर रात दोबारा उनकी सेहत बिगड़ती है तो इसे ध्यान में रखते हुए दो चिकित्सकों को रातभर अस्पताल में रहने का निर्देश दिया गया है। मॉनिटर समेत तमाम उपकरण उनके कमरे में लगाए गए हैं, जिससे निरंतर उनके स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग हो रही है। अगर तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें आईसीयू या किसी अन्य विभाग में शिफ्ट करने की नौबत आती है तो सुरक्षा के दृष्टिकोण से जेल प्रशासन इसके लिए पूरी तरह तैयार है।

डॉक्‍टरों के मुताबिक लालू यादव को सांस लेने में अचानक परेशानी होने लगी है। आनन-फानन में तुरंत इसकी सूचना चिकित्सकों को दी गई। सूचना मिलते ही झारखंड के स्वास्‍थ्‍य मंत्री बन्ना गुप्ता, रिम्स अधीक्षक डॉ विवेक कश्यप और लालू प्रसाद यादव का इलाज कर रहे डॉक्टर उमेश प्रसाद उन्‍हें देखने पेइंग वार्ड पहुंचे।

लालू प्रसाद के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के बाद बन्ना गुप्ता वापस लौट गए। डॉक्‍टर अभी लालू प्रसाद के इलाज में लगे हैं। मिली जानकारी के अनुसार, लालू में निमोनिया के लक्षण देखे जा रहे हैं। कोरोना जांच के लिए उनका सैंपल दिया गया है। रैपिड एंटीजन टेस्ट में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। वहीं, आरटी पीसीआर की रिपोर्ट आनी बाकी है। मौके पर उनका एक्स-रे भी किया गया। इसमें थोड़ा-सा इन्फेक्शन भी देखने को मिला है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप