रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। झारखंड आदिवासी सरना विकास समिति ने 15 दिसंबर को पाकुड़ में प्रस्तावित चुंबन प्रतियोगिता पर आपत्ति जताई है। समिति ने इस आयोजन की घोषणा करने वाले लिट्टीपाड़ा के विधायक सह झामुमो के वरिष्ठ उपाध्यक्ष साइमन मरांडी को आड़े हाथों लिया है। समिति ने कहा है कि आदिवासी परंपरा का हिस्सा बताकर ऐसी उलूल-जुलूल प्रतियोगिता कराने पर पिछले साल काफी बवाल मचा था।

समिति का कहना है कि एक बार फिर विवाद को भड़काने की कोशिश हो रही है। समिति ने इस संदर्भ में मुख्य सचिव को पत्र लिखा है तथा समय रहते इस आयोजन पर रोक लगाने की मांग की है, ताकि शांति व्यवस्था भंग न हो। बता दें कि लिट्टीपाड़ा के डुमरिया मेला में झामुमो विधायक साइमन मरांडी द्वारा आयोजित चुंबन प्रतियोगिता पर पिछले साल काफी विवाद हुआ था।

आदिवासी सांस्कृतिक विरासत पर ईसाई मिशनरी का हमला बताते हुए तब कई सामाजिक संगठनों ने इसका विरोध किया था। इस पूरे आयोजन को आदिवासी समाज को दिग्भ्रमित करने व इसे बदनाम करने का कुचक्र कहा था। मालूम हो कि झामुमो विधायक साइमन मरांडी हर साल इस क्षेत्र में मेले का आयोजन करते हैं।

Posted By: Alok Shahi