रांची, राब्यू। लालू प्रसाद को दो मामलो में सजा सुनाने वाले सीबीआइ के विशेष जज शिवपाल सिंह का तबादला कर दिया गया है। इनके अतिरिक्त सात अन्य जज भी बदले गए हैं। शिवपाल सिंह को गोड्डा का जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश बनाया गया है। शिवपाल सिंह ने लालू प्रसाद यादव को सजा सुनाने और कई आइएएस को चारा घोटाले मामले में आरोपित बनाने के लिए समन जारी किया था। जिसके बाद ये खासे चर्चा में आए थे। इन्होंने चारा घोटाले मामले में सजा पर टिप्पणी करने वालों को भी नोटिस जारी की थी, जिसमें लालू के पुत्र तेजस्वी यादव, रघुवंश प्रसाद सिंह, शिवानंद तिवारी व कांग्रेस के नेता मनीष तिवारी शामिल हैं। हालांकि हाई कोर्ट ने इस नोटिस को रद कर दिया है।

शिवपाल सिंह ने चारा घोटाले के देवघर और दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू प्रसाद सहित कई अन्य लोगों को सजा सुनाई है। इन्होंने लालू को सबसे ज्यादा 14 साल सजा दुमका कोषागार मामले में दी है। हाई कोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल अंबुज नाथ ने तबादले से संबंधित आदेश जारी किया है।

सिविल जजों का भी तबादला 

बोकारो के सिविल जज देवाशीष महापात्रा को दुमका, जमशेदपुर के सिविल जज दया राम को गोड्डा, तेनूघाट के सिविल जज राकेश कुमार का तबादला बोकारो किया गया है। दुमका के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी योगेश कुमार का तबादला हजारीबाग के जज शिवपाल सिंह की फाइल फोटो। सिविल जज के पद पर किया गया है।

इन जजों का हुआ तबादला और प्रमोशन

-हजारीबाग के अपर सत्र न्यायाधीश सुरेंद्र शर्मा को जिला एवं सत्र न्यायाधीश, धनबाद।

-हजारीबाग के अपर सत्र न्यायाधीश पारसनाथ उपाध्याय को जमशेदपुर अतिरिक्त प्रधान न्यायाधीश कुटुंब

न्यायालय। 

-धनबाद के अपर सत्र न्यायाधीश सुधांशु कुमार शशि को रांची का अतिरिक्त न्यायायुक्त बनाया गया।

-जमशेदपुर के अपर सत्र न्यायाधीश मार्तंड प्रताप मिश्र को रांची का अतिरिक्त न्यायायुक्त बनाया गया।

-जमशेदपुर से अतिरिक्त प्रधान न्यायाधीश कुटुंब न्यायालय कौशल किशोर झा को जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश हजारीबाग।

-गोड्डा के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संजय प्रताप को रामगढ़ का अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश।

-रांची के अतिरिक्त न्यायायुक्त सह सीबीआइ के विशेष जज शिवपाल सिंह को गोड्डा का जिला व अतिरिक्त

सत्र न्यायाधीश बनाया गया है।

-अतिरिक्त न्यायायुक्त रांची के श्याम नंदन तिवारी को चाईबासा का अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश बनाया गया है।

Posted By: Babita