रांची : अड़की थाना क्षेत्र के कोचांग में पांच युवतियों से सामूहिक दुष्कर्म मामले में खुद को निर्दोष बताने वाले पत्थलगड़ी के स्वयंभू नेता जॉन जुनास तिड़ू को गिरफ्तार आरोपितों ने भी साजिशकर्ता बताया है। सामूहिक दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार पश्चिमी सिंहभूम के बंदगांव निवासी अजूब सांडी पूर्ति व सोनुआ के आशीष लोंबो ने पुलिस को दिए स्वीकारोक्तिबयान में इसका खुलासा किया है।

खूंटी पुलिस ने जॉन जुनास तिड़ू के फोटो को जब दोनों ही दुष्कर्म के आरोपितों को दिखाया तो दोनों ने ही उसकी पहचान कर ली। आरोपितों ने बताया कि घटना के दिन यानी 19 जून की सुबह जॉन जुनास तिड़ू ही जंगल में पीएलएफआइ के एरिया कमांडर बाजी समद उर्फ टकला व नोएल सांडी पूर्ति को नुक्कड़ नाटक के बारे में जानकारी दी थी। उस वक्त अजूब सांडी पूर्ति, आशीष लोंबो जुनास मुंडू व एक अन्य युवक बच्चा भी मौजूद था। जॉन जुनास तिड़ू ने ही उग्रवादियों, अपराधियों व पत्थलगड़ी समर्थकों को बताया कि नुक्कड़ नाटक करने वाले पुलिस-प्रशासन के जासूस हैं और पत्थलगड़ी विरोधी हैं। उसने ही कहा था कि नुक्कड़ नाटक करने वालों का अपहरण कर ऐसा सबक सिखाएं कि वे दोबारा इस इलाके में आने के पहले सोचें। जॉन जुनास तिड़ू ने ही अपराधियों को बताया कि नुक्कड़ नाटक करने वाले आरसी मिशन स्कूल में जाने वाले हैं।

-----

..और स्कूल की तरफ चल दिए :

गिरफ्तार आशीष लोंबो व अजूब सांडी पूर्ति ने पुलिस को बताया कि जॉन जुनास तिड़ू के कहने पर ही वे दोनों तथा नोएल सांडी पूर्ति, बाजी समद उर्फ टकला, जुनास मुंडू व बच्चा आरसी मिशन स्कूल पहुंचे और नुक्कड़ नाटक बंद करवा दिया। नोएल सांडी पूर्ति व बाजी समद टकला स्कूल के फादर अल्फोंस आइंद से बातचीत की और फिर नुक्कड़ नाटक कर्मियों को उन्हीं की गाड़ी से लेकर जाने लगे। फादर ने भी नुक्कड़ नाटक करने वाले सभी कर्मियों से कहा कि वे दो घंटे के लिए उनके साथ चले जाएं। युवक-युवतियां गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन उनकी एक न सुनी गई। फादर ने टीम की दो ननों को जाने से रोक दिया।

-----

अजूब सांडी पूर्ति, टकला व नोएल सांडी पूर्ति ने ही किया था दुष्कर्म :

कुल छह दुष्कर्म के आरोपितों में सिर्फ तीन आरोपितों ने ही पांचों युवतियों से सामूहिक दुष्कर्म किया था। स्वीकारोक्ति बयान में आरोपितों ने बताया कि नुक्कड़ नाटक मंडली के चालक सहित चार पुरुषों को तीन अपराधी आशीष लोंबो, जुनास मुंडू व एक नाबालिग ने हथियार के बल पर बंधक बनाया था। वहीं, पीएलएफआइ के एरिया कमांडर अजूब सांडी पूर्ति, नोएल सांडी पूर्ति व बाजी समद उर्फ टकला पांचों युवतियों को जंगल में हथियार का भय दिखाकर निर्वस्त्र किया और बारी-बारी से सामूहिक दुष्कर्म किया, अश्लील फोटोग्राफी की, अमानवीय व्यवहार किया।

-----

तिड़ू ने खुद को बताया है निर्दोष :

इस पूरी घटना में पत्थलगड़ी का स्वयंभू नेता जॉन जुनास तिड़ू ने खुद को निर्दोष बताया है। उसने कहा है कि घटना के दिन सुबह 10 बजे वह चाईबासा निकल गया था और शाम में लौटा। जाते वक्त उसने नुक्कड़ नाटक मंडली को नुक्कड़ नाटक करते देखा था, लेकिन उनके विरुद्ध किसी को नहीं उकसाया था। पुलिस उसे एक साजिश के तहत फंसा रही है।

------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप