रांची, राज्य ब्यूरो। राम मंदिर का निर्माण अयोध्‍या में हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने बुधवार को शुभ मुहूर्त में इसकी नींव भी रख दी। इधर, झारखंड में इस पर राजनीति शुरू हो गई है। देश के दो बड़ी पार्टियां इसका श्रेय लेने की होड़ में लग गई हैं। एक ओर भाजपा इसे लोगों की आस्‍था से जोड़ते हुए राम मंदिर निर्माण को करोड़ों भारतीयों के तपस्या का परिणाम बता रही है, वहीं दूसरी ओर झारखंड कांग्रेस अपने पूर्ववर्ती केंद्र सरकारों में प्रधानमंत्री रहे राजीव गांधी और नरसिम्हा राव को राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्‍त करने की बात कह रही है। आइए पढ़ें विस्‍तार से...

भाजपा ने कहा, करोड़ों भारतीयों के संघर्ष और तपस्या का परिणाम है यह राम मंदिर

अयोध्या में श्रीराम मंदिर के शिलान्यास का जश्न भाजपा ने भले ही अधिकृत तौर पर न मनाया हो लेकिन प्रदेश कार्यालय समेत सभी जिलों में दीप जलाकर इस ऐतिहासिक मौके का जश्न मनाया। प्रदेश कार्यालय समेत अन्य जिलों के कार्यालयों में दीपावली सी रोशनी का नजारा देखने को मिला। पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने मिठाईयां बांटकर अपनी खुशियां साझा की।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि स्थल पर भव्य राम मंदिर निर्माण करोड़ों भारतीयों के संघर्ष और तपस्या का परिणाम है। राम के बिना भारत की कल्पना नहीं की जा सकती। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रदेश भाजपा और झारखंड की जनता की ओर से आभार प्रकट किया। प्रदेश संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह ने प्रधानमंत्री का आभार प्रकट करते हुए कहा कि राम मंदिर का भूमि पूजन भारत की सांस्कृतिक चेतना का मूर्त रूप से प्रकटीकरण है।

इधर, रांची सांसद संजय सेठ ने अपने आवास पर परिवार और भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ खुशियां मनाई। इस मौके पर घंटी, शंख बजाकर ना केवल अपनी खुशी व्यक्त की, बल्कि लोगों के बीच लड्डू भी बांटे गए। भाजपा के सांसदों, विधायकों और पार्टी कार्यकर्ताओं ने इसे शुभ अवसर बताते हुए प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।

स्वर्णिम व गौरवशाली युग की शुरुआत : बाबूलाल मरांडी

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने अयोध्या में श्री राम मंदिर के भूमि पूजन को देश के लिए एक नए स्वर्णिम व गौरवशाली युग की शुरुआत बताया है। कहा, आज का ऐतिहासिक दिन भारतीय इतिहास के पन्नों में स्वर्णाक्षरों में दर्ज हो गया है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धर्म नगरी अयोध्या में भव्य, दिव्य और अलौकिक राम मंदिर का भूमि पूजन कर इतिहास रचा है। बाबूलाल ने कहा कि भूमि पूजन कर प्रधानमंत्री ने भारतवासियों की श्रद्धा व आस्था का जो सम्मान किया है, उसके लिए उनका झारखंड की तमाम जनता की तरफ से सहृदय धन्यवाद एवं आभार।

अर्जुन मुंडा ने दी शुभकामनाएं

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने समस्त देशवासियों को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर भूमिपूजन की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण दुनिया भर के हिंदुओं की आस्था का प्रतीक रहा है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर का भूमिपूजन करके करोड़ों लोगों की आस्था को सम्मान दिया है।

कांग्रेस ने कहा, राजीव गांधी और नरसिम्हा राव ने ही मंदिर का मार्ग प्रशस्त किया था

भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर भूमिपूजन के मौके पर बुधवार को प्रदेश कांग्रेस भवन समेत सभी जिला मुख्यालयों में पार्टी कार्यालय में दीप प्रज्ज्वलित किया गया और मिठाइयां बांटी गईं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्य के खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने कहा कि कांग्रेस की आस्था मंदिर निर्माण में शुरू से ही रही है।

उन्होंने कहा कि इस बात की सभी को जानकारी होनी चाहिए कि राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने का काम सबसे पहले प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने किया था और बाद में पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव ने इसे आगे बढ़ाने का काम किया था। उन्होंने कहा कि गांधीजी भी रामराज्य की कल्पना करते रहे और जब आजादी के बाद देश में कांग्रेस के नेतृत्व में सरकार बनी, तो सभी वर्ग-समुदाय को साथ लेकर रामराज्य की बुनियाद रखी गयी।

कहा कि अफसोस है कि भाजपा-संघ ने सिर्फ 100-150 की संख्या में लोगों को आमंत्रित किया है, जबकि पूरा देश भूमि पूजन में शामिल होना चाहता था। झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सह प्रभारी व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव उमंग सिंघार ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक सद्भाव का पर्याय बनेगा।

उन्होंने कहा कि राम तो सबके हैं। सरलता, साहस, संयम, त्याग, वचनबद्धता राम नाम का सार है। राम सबमें है, राम सबके साथ हैं। राम और सीता के संदेश और उनकी कृपा के साथ रामलला के मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का अवसर है। उमंग सिंघार ने कहा कि प्रभु राम कोरोना संक्रमण, देश में गरीबी, भूखमरी,अशिक्षा और बेरोजगारी से मुक्ति दिलाये। प्रदेश कांग्रेस भवन में भूमि पूजन के स्वागत में दीप प्रज्ज्वलन के साथ ही मिठाइयां भी बांटी गयी।

कांग्रेस भवन में मौजूद सभी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने आतिशबाजी की एवं महात्मा गांधी के रामधुन रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीता राम को गया। झारखंड सरकार के मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि भगवान राम, माता सीता और रामायण की कथा हजारों वर्षों से हमारे सांस्कृतिक और धार्मिक स्मृतियों में प्रकाश पुंज की तरह आलोकित है, भगवान राम नैतिकता बलिदान, शक्ति और धार्मिकता की आदर्श छवि हैं।

मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि भगवान राम सबका कल्याण चाहते हैं इसलिए वे मर्यादा पुरुषोत्तम हैं, उन्होंने कहा कि राम साहस हैं, राम संगम हैं, राम सहयोगी हैं और सबसे महत्वपूर्ण राम सबके हैं। प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, विधायक दीपिका पाण्डेय, प्रवक्ता आलोक दुबे एवं डॉ. राजेश गुप्ता छोटू ने भूमि पूजन की राज्यवासियों को शुभकामनाएं दी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021