रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand News पारा शिक्षकों (सहायक अध्यापक) के मानदेय वृद्धि के लिए आकलन परीक्षा 31 जुलाई तक होगी। परीक्षा के 20 दिनों पहले विज्ञापन जारी कर दिया जाएगा। झारखंड एकेडमिक काउंसिल के अध्यक्ष अनिल कुमार महतो ने इसकी जानकारी बुधवार को झारखंड राज्य प्रशिक्षित सहायक अध्यापक संघ के प्रतिनिधिमंडल को दी। उन्होंने बताया कि कक्षा एक से पांच के पारा शिक्षकों के लिए 200 अंकों एवं कक्षा छह से आठ के शिक्षकों के लिए 250 अंको की परीक्षा आयोजित होगी। परीक्षा का सिलेबस राज्य सरकार द्वारा जारी किया जाएगा।

इससे पहले प्रतिनिधिमंडल ने शिक्षा सचिव राजेश शर्मा से मिलकर राज्य के पारा शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं की जानकारी दी। सचिव ने कहा कि सहायक अध्यापक सेवा शर्त नियमावली राज्य में पूरी तरह लागू कर दी गई है। अवकाश तथा चिकित्सा अवकाश पूर्ण रूप से पारा शिक्षकों को दिया जाना है। अप्रशिक्षित पारा सहायकों को प्रशिक्षित पारा शिक्षकों के समान सुविधा देने के संबंध में उन्होंने कहा कि झारखंड उच्च न्यायालय के आदेश आने के बाद ही सरकार इस विषय पर कोई निर्णय लेगी।

प्रतिनिधिमंडल ने झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद के प्रशासी पदाधिकारी जयंत मिश्रा से मुलाकात की। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि पारा शिक्षकों की सेवा पुस्तिका एवं चार प्रतिशत वार्षिक बढ़ोतरी का लाभ जुलाई माह से मिलेगा। पारा शिक्षक कल्याण कोष के लिए अगले सप्ताह बैठक आयोजित की जाएगी । शून्य बायोमेट्रिक मानदेय का भुगतान शीघ्र कर दिया जाएगा। प्रतिनिधिमंडल में शामिल संघ के प्रदेश अध्यक्ष मो सिद्दीक शेख़, महासचिव विकास कुमार चौधरी एवं प्रधान सचिव सुमन कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से कहा कि सीटेट को जेटेट के समान लाभ नहीं दिया जा रहा है। प्रतिनिधिमंडल ने आकलन परीक्षा 100 अंकों की लेने की मांग की।

Edited By: Alok Shahi