रांची, राज्य ब्यूरो। Performance Grading Index Report 2022 केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा परफारमेंस ग्रेडिंग इंडेक्स को लेकर जारी जिलों की रिपोर्ट में झारखंड के छह जिलों ने ग्रेडिंग में उत्तम स्थान हासिल किया है। इनमें हजारीबाग, धनबाद, रामगढ़, रांची, सरायकेला खरसावां व चतरा शामिल हैं। इनमें हजारीबाग सबसे अव्वल रहा है। उत्तम से बेहतर ग्रेडिंग में दक्ष, उत्कर्ष व अति उत्तम में झारखंड का एक भी जिला शामिल नहीं हो पाया है। जिलों की यह रिपोर्ट वर्ष 2018-19 तथा 2019-20 के लिए संयुक्त रूप से यूडायस प्लस, नेशनल अचीवमेंट सर्वे तथा जिलों द्वारा उपलब्ध कराए गए डाटा के आधार पर तैयार की गई है।

प्रदर्शन के आधार पर जिलों की ग्रेडिंग की गई

इस रिपोर्ट में छह सूचकांकों में जिलों के प्रदर्शन के आधार पर उन्हें ग्रेडिंग दी गई है। कुल 600 अंकों में 61 से 70 प्रतिशत तक अंक लानेवाले जिलों को उत्तम श्रेणी में रखा गया था। राज्य के छह जिलों ने इतने अंक प्राप्त किए। 15 जिलों ने 51 से 60 प्रतिशत के बीच अंक लाकर प्रचेष्टा-एक की श्रेणी में शामिल हुए। इनमें गिरिडीह, देवघर, पाकुड़, बोकारो, साहिबगंज, पूर्वी सिंहभूम, सिमडेगा, गोड्डा, खूंटी, कोडरमा, पलामू, पश्चिमी सिंहभूम, गुमला, लातेहार तथा लोहरदगा शामिल हैं।

लर्निंग आउटकम में चौथे स्थान पर झारखंड

जबकि तीन जिले जामताड़ा, गढ़वा तथा दुमका 41 से 50 प्रतिशत के बीच अंक लाकर प्रचेष्टा-2 में स्थान प्राप्त किया। ओवरआल परफारमेंस में भले ही झारखंड पीछे रहा हो, लेकिन लर्निंग आउटकम में झारखंड राजस्थान, चंडीगढ़ तथा कर्नाटक के बाद केरल और आंध्र प्रदेश के साथ चौथे स्थान पर है। झारखंड के जिलों की बात करें तो इसमें धनबाद सबसे अव्वल है। अन्य सूचकांकों में झारखंड के जिलों की स्थिति उतनी अच्छी नहीं है। डिजिटल लर्निंग में तो झारखंड के जिले काफी पीछे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2018-19 में झारखंड के तीन ही जिले हजारीबाग, रांची और धनबाद उत्तम श्रेणी में थे। राज्य के 15 जिले प्रचेष्टा-एक तथा छह जिले प्रचेष्टा-दो में शामिल थे।

विभिन्न सूचकांकों में झारखंड के पांच टाप जिले

  • लर्निंग आउटकम (कुल 290 अंकों में)
  • धनबाद : 181
  • रामगढ़ : 177
  • बोकारो : 173
  • हजारीबाग : 172
  • सरायकेला खरसावां : 171

प्रभावी कक्षा, लर्निंग मैनेजमेंट (कुल 90 अंकों में)

  • रांची : 81
  • हजारीबाग : 80
  • पलामू व देवघर : 79
  • चतरा व सरायकेला खरसावां : 77
  • साहिबगंज व सिमडेगा : 76

स्कूलों में आधारभूत संरचनाएं (कुल 51 अंकों में)

  • रामगढ़ : 60
  • रांची व धनबाद : 39
  • देवघर : 37
  • पाकुड़ : 36
  • गिरिडीह : 35

स्कूल सुरक्षा एवं बाल संरक्षा (कुल 35 अंकों में)

  • हजारीबाग, चतरा व पलामू : 30
  • साहिबगंज : 25
  • सरायकेला खरसावां : 24
  • रांची : 23

डिजिटल लर्निंग (कुल 50 अंकों में)

  • बोकारो व पलामू : 16
  • रांची व लोहरदगा : 15
  • धनबाद, पूर्वी सिंहभूम : 14
  • हजारीबाग व गोड्डा : 13
  • रामगढ़, गिरिडीह, साहिबगंज : 12
  • पश्चिमी सिंहभूम, लातेहार, जामताड़ा, गढ़वा : 12

Edited By: M Ekhlaque