रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand News ईडी के विशेष न्यायाधीश पीके शर्मा की अदालत में मनी लांड्रिंग मामले में गिरफ्तार निलंबित आइएएस अधिकारी पूजा सिंघल को पेश किया गया। जहां से अदालत ने उन्हें बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा होटवार भेज दिया गया है। अब आठ जून को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उनकी पेशी होगी। ईडी की टीम ने रिमांड अवधि खत्म होने के बाद आरोपित पूजा सिंघल को अदालत में पेश किया गया।

अदालत में पेशी के दौरान जांच एजेंसी, ईडी के विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह व अतीश कुमार ने अदालत को बताया कि मनी लांड्रिंग का मामला बहुत बड़ा है। अभी और पूछताछ की आवश्यकता है। कानून के तहत अब आरोपित को पूछताछ के लिए रिमांड पर नहीं लिया जा सकता है। गिरफ्तारी के बाद अधिकतम 14 दिन ही रिमांड पर लिया जा सकता है, जो पूरी हो चुकी है। पूजा सिंघल से जरूरत के अनुसार जेल में ही पूछताछ की अनुमति दी जाए।

यह भी पढ़ें : Jharkhand News: जेल के जमादार पर जोर से चीखीं IAS पूजा सिंघल, ले जाओ अपना चना-गुड़, मुझे नहीं चाहिए जेल का खाना...

पूजा सिंघल से जेल में पूछताछ के आग्रह पर अदालत ने कहा कि इसके लिए अलग से जांच एजेंसी को आवेदन देना होगा। पूजा सिंघल के अधिवक्ता विश्वजीत मुखर्जी ने कहा कि पूजा सिंघल की तबीयत ठीक नहीं है। इनको जेल में बेहतर मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई जाए। अदालत ने कहा कि जेल अधीक्षक एवं जेल चिकित्सक को इसका निर्देश दे दिया गया है। दोनों पक्षों की बहस पूरी होने के बाद अदालत ने आरोपित पूजा सिंघल को जेल भेजे जाने का निर्देश दिया। जिसके बाद उन्हें बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा भेज दिया गया।

14 दिन की रिमांड लेकर ईडी ने की पूछताछ

ईडी ने मनी लांड्रिंग के आरोप में 11 मई को पूजा सिंघल को गिरफ्तार किया था। उसी दिन देर शाम को अदालत में पेशी के बाद जेल भेज दिया गया था। अगले दिन ईडी की टीम ने अदालत की अनुमति के तहत पूछताछ के लिए पूजा सिंघल को अपने साथ ले गई। 16 मई को रिमांड अवधि खत्म होने पर अदालत में पेश किया गया। जहां से फिर से चार दिनों की रिमांड पर ईडी अपने साथ ले गई।

इससे पहले 20 मई को रिमांड अवधि खत्म होने पर पूजा को अदालत में पेश किया गया। जहां से एक बार फिर पांच दिनों की रिमांड पर ईडी अपने साथ ही ले गई। बुधवार को रिमांड अवधि पूरी होने के बाद अदालत में पेश किया गया। जहां से जेल भेज दिया गया। मामले के अन्य दो आरोपित पूजा सिंघल के पति के सीए सुमन कुमार एवं निलंबित जूनियर इंजीनियर राम बिनोद प्रसाद सिन्हा को अगली पेशी के दिन तीनों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अदालत में पेश किया जाएगा।

जेल पहुंचते ही आइएएस मैडम की हालत खराब

इधर खबर है कि रांची के होटवार जेल पहुंचते ही एक बार फिर से आइएएस पूजा सिंघल की हालत खराब हो गई। वह जेल के चना-गुड़ का नाश्‍ता और सूखी रोटी-पतली दाल देखकर बुरी तरह बिफर गईं। जेलर और जमादार जब उनका हाल पूछने आए, तो उनसे बिना बात किए अपना सिर दूसरी ओर घुमा लिया। यहां महिला वार्ड में 3 महिला सेवादारों ने मैडम की सही तरीके से देखभाल की।

इससे पहले भी पूजा सिंघल को लेकर जेल से खबर आई थी, कि उन्‍होंने जेल का खाना खाने से साफ मना कर दिया था। तब उन्‍होंने जेल में मच्‍छर काटने, साफ-सफाई नहीं रहने पर जमादार को खूब हड़काया था। ईडी कोर्ट में पेशी के बाद जेल लाई गईं पूजा सिंघल को महिला वार्ड में दूसरे बंदियों के साथ रखा गया है। यहां उन्‍हें जमीन पर बिछाने के लिए चादर दिया गया है। अब 8 जून तक पूजा सिंघल जेल में ही रहेंगी।

Edited By: Alok Shahi