रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड हाई कोर्ट के जस्टिस राजेश कुमार की अदालत ने पूर्व मंत्री योगेंद्र साव की जमानत याचिका पर सुनवाई से इन्कार कर दिया है। अदालत ने इस मामले की सुनवाई के लिए दूसरी बेंच में भेजने का निर्देश दिया है। रांची की निचली अदालत ने योगेंद्र साव की जमानत को खारिज कर दिया है।

इसके खिलाफ इन्होंने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की है। दरअसल बड़कागांव में एनटीपीसी के लिए भूमि अधिग्र्रहण के विरोध में योगेंद्र साव ने प्रदर्शन किया था। इस मामले में पुलिस ने उनको आरोपित बनाते हुए प्राथमिकी दर्ज की थी।

पूर्व में सुप्रीम कोर्ट से इन्हें राज्य से बाहर रहने की शर्त पर जमानत मिल गई थी। लेकिन जमानत की शर्तों का उल्लंघन करने पर सुप्रीम कोर्ट ने उनकी जमानत को रद कर दिया। इसके बाद योगेंद्र साव को रांची की अदालत में सरेंडर करना पड़ा था। वे फिलहाल जेल में बंद हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप