झुमरीतिलैया (कोडरमा), जासं। अब बच्चों को  कुकिंग कॉस्ट की राशि लेने के लिए बैंक नहीं जाना पड़ेगा। क्योंकि अब इसके बदले उन्हें खाद्य सामग्री दी जाएगी। सरकारी प्रारंभिक स्कूलों के बच्चों को कुकिंग कॉस्ट के बदले दाल, नमक, सब्जी, तेल आदि का वितरण किया जाएगा। बच्चों तक यह सामग्री पैकेट बना कर कुकिंग कॉस्ट के बदले घर-घर तक पैकेट बनाकर पहुंचाया जाएगा। सबसे महत्वपूर्ण बात है कि बच्चों को पैकेट मिला या नहीं, इसका प्रमाण भी देना होगा।

इसके लिए फोटोग्राफी अनिवार्य किया गया है। इस संबंध में कोडरमा के जिला शिक्षा अधीक्षक नवल किशोर प्रसाद ने दिशा-निर्देश जारी किया है। उन्होंने कहा है कि कुकिंग कॉस्ट की राशि इस बार बच्चों के बैंक खाते में नहीं भेजना है, ताकि छोटी सी राशि की निकासी के लिए उन्हें बैंक नहीं जाना पड़े। सामग्री की खरीदारी सरस्वती वाहिनी संचालन समिति रसोइया से सहयोग लेकर करेगी और बच्चों तक वितरण भी करेगी। सामग्री के पैकेट का वितरण क्षेत्र के मुखिया, पंचायत सचिव, विधायक प्रतिनिधि की उपस्थिति में घर-घर जाकर किया जाएगा।

पहली से पांचवीं कक्षा में प्रति छात्र-छात्रा 1320 ग्राम चना दाल, 330 ग्राम सरसों तेल, 3300 ग्राम सब्जी व आलू, 750 ग्राम नमक दिया जाना है। वहीं छठी से आठवीं कक्षा में प्रति छात्र-छात्रा 1980 ग्राम चना दाल, 528 ग्राम सरसों तेल, 4950 ग्राम सब्जी व आलू और 1500 ग्राम नमक दिया जाएगा। इसी तरह अतिरिक्त पोषाहार के रूप में अंडा, फल का वितरण किया जाएगा। पूरी योजना की निगरानी की जिम्मेवारी संबंधित बीईईओ को दी गई है।

Edited By: Sujeet Kumar Suman