रांची, [जागरण स्‍पेशल]। झारखंड के नक्‍सल-पत्‍थलगड़ी प्रभावित खूंटी संसदीय क्षेत्र के सांसद, पूर्व मुख्‍यमंत्री और केंद्रीय जनजातीय मंत्री अर्जुन मुंडा की सादगी की चर्चा हर जुबान पर है। पहले ही उनकी पहचान जमीन से जुड़े हुए नेता के तौर पर की जाती है, तिस पर बीते दिन उन्‍होंने बीच रास्‍ते काफिला रोककर फुटपाथ से साग-सब्‍जी खरीदकर आलोचकों को भी सादा जीवन जीने की नई खुराक पिला दी। उन्‍हें जानने वालों से लेकर न जानने वाले भी उन्‍हें ठेठ आदिवासी नेता के तौर पर याद करते हैं।

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्‍मदिन के मौके पर वे खूंटी में सेवा दिवस समारोह में शामिल हुए। इस क्रम में मुख्‍यमंत्री रघुवर दास के साथ मिलकर उन्‍होंने खूंटी के सर्वांगीण विकास के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की। कार्यक्रम की समाप्ति के बाद जब केंद्रीय मंत्री काफिला वापस रांची लौटने लगे, इस बीच खूंटी बाजार में उन्‍होंने सड़क किनारे गाड़ी रुकवा दी और फुटपाथ पर लगे हाट से साग-सब्जी की खरीदारी करने निकल पड़े।

केंद्र की मोदी सरकार में जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा खूंटी के सांसद भी हैं। इस को लेकर अर्जुन मुंडा ने ट्वीट किया- आज खूंटी बाजार से घर के लिए साग खरीदा। बता दें कि अर्जुन मुंडा और उनकी पत्नी मीरा मुंडा ऐसे ही अक्सर गांव-देहात के हाट-बाजारों में दिख जाते हैं। वे यहां जरूरी सामान की खरीदारी करते हैं। सब्जी विक्रेताओं से बतियाते भी हैं। उनके रांची स्थित सरकारी आवास पर एक समृद्ध किचेन गार्डन भी है। कभी-कभार वे घर आए मेहमानों को बेहद दिलचस्‍पी से अपनी गार्डनिंग दिखाते हैं। हर पर्व में प्रकृति को पूजने वाले अर्जुन मुंडा अपनी संस्‍कृति-परंपरा को लेकर खासे उत्‍साहित रहते हैं।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप