रामगढ़, जागरण संवाददाता। झारखंड के रामगढ़ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी (Sub-Divisional Police Officer) किशोर कुमार रजक के विरुद्ध शनिवार को उनकी पत्नी वर्षा श्रीवास्तव ने रामगढ़ थाने में मारपीट व प्रताड़ित करने का आरोप लगाकर प्राथमिकी दर्ज कराई है। प्राथमिकी में पत्नी ने एसडीपीओ पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। पीड़िता वर्षा ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने के साथ-साथ अपने आपबीती को सोशल मीडिया में वायरल कर न्याय दिलाने की गुहार लगाई है।

अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पर प्राथम‍िकी दर्ज

मामले को संज्ञान लेते हुए कई सामाजिक संस्थाओं ने वायरल मैसेज को टैग करते हुए झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और डीजीपी नीरज स‍िन्‍हा तक पहुंचाया है। मामले को लेकर एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि पत्नी की लिखित शिकायत पर रामगढ़ थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। घटना की जांच शुरू कर दी गई है। दोषी पाए जाने पर एसडीपीओ किशोर कुमार रजक के विरुद्ध विधि-संगत कार्रवाई की जाएगी। रामगढ़ थाना प्रभारी रोहित कुमार ने बताया कि वर्षा श्रीवास्तव की लिखित शिकायत पर एसडीपीओ किशोर कुमार रजक के विरुद्ध रामगढ़ थाना कांड संख्या 16/22 धारा 341, 323, 325, 308 व 498ए भादवि के तहत प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। कांड की अनुसंधान अधिकारी एएएसआइ मालती कुमारी बनाई गई हैं।

वर्षा ने ल‍िखा- पति क्रूरता से पेश आते हैं पेश

एसडीपीओ की पत्नी वर्षा श्रीवास्तव ने अपने साथ घटी घटना को सोशल मीडिया में वायरल करते हुए कहा कि झारखंड में उनका कोई अपना नहीं है। पति की प्रताड़ना से तंग आ चुकी हैं। पति उनके साथ क्रूरता से पेश आते हैं। वह उत्तर प्रदेश की रहने वाली हैं। पति की मानसिकता को बदलने की उन्होंने काफी कोशिश की, पर कोई सुधार नहीं हुआ। परिवार बचाने के लिए उन्हाेंने बहुत मार सही, पर अब मार बर्दाश्त नहीं कर सकती हैं।

झारखंड में मेरा कोई नहीं, अकेली हूं मैं...

वर्षा श्रीवास्‍तव ने ल‍िखा है क‍ि झारखंड में में मेरा कोई नहीं है। मैं यहां अकेली हूं। आप सबसे सहयोग चाहती हूं। बताया गया क‍ि वर्षा श्रीवास्‍तव एसडीपीओ की पुलिस गाड़ी से ही रामगढ़ थाने पहुंची थीं, जहां उन्‍होंने पति किशोर कुमार रजक के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई।

पहले भी व‍िवाद आया था सुर्ख‍ियों में

विदित हो कि लगभग छह-सात साल पहले किशाेर कुमार रजक जब रामगढ़ में प्रशिक्षु डीएसपी के रूप में काम कर रहे थे, उस वक्त भी पत्नी के साथ विवाद का मामला सुर्खियों में रहा। उस दौरान भी कई बार दोनों पति-पत्नी एक दूसरे के खिलाफ मारपीट का आरोप लगाकर रामगढ़ थाने में लिखित शिकायत की थी। अभी भी मामला रामगढ़ काेर्ट में विचाराधीन है।

प्राथमिकी में एसडीपीओ की पत्नी ने क्या लगाया है आरोप

प्राथमिकी में वर्षा श्रीवास्तव ने आरोप लगाया है कि उनके पति एसडीपीओ किशोर कुमार रजक ने 14 जनवरी 2022 को सरकारी आवास में गला घोंटकर मारने का प्रयास किया। उन्होंने क‍िसी तरह अपनी जान बचाई। फिर पति ने उन्‍हें लात-घूंसों से मारा। बाल पकड़कर प‍िटाई की। इससे उनके शरीर के कई हिस्से में चोटें आईं। प‍िटाई के कारण उनकी दायीं आंख की रोशनी कम हो गई है। दाएं कान से सुनने में भी परेशानी हो रही है। मारपीट करने के बाद पति कमरे में छोड़ कर बाहर निकल गए। आवास के सभी गार्ड को पति ने आदेश दे दिया कि किसी भी कीमत में वह घर से बाहर नहीं निकल पाए। इसके बाद वह किसी तरह से घर से बाहर निकलकर आवास के बगल में डा सांत्वना शरण की क्‍ल‍िन‍िक में जाकर इलाज कराई। प्राथमिकी में उल्लेख किया गया है पति कई बार उनके साथ मारपीट की घटना को अंजाम दे चुके हैं। प्राथमिकी में उन्होंने उनको और दो वर्ष के पुत्र को जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाई है।

एसडीपीओ ने कहा- पत्नी देती है आत्महत्या की धमकी

उधर, रामगढ़ एसडीपीओ किशाेकर कुमार रजक ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि पत्नी वर्षा श्रीवास्तव आत्महत्या की धमकी देती है। उन पर झूठा आरोप लगाकर उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रही है। इस संबंध में उन्होंने 26 अक्टूबर 2021 को ही महिला थाना प्रभारी रामगढ़, महिला उत्पीड़न केंद्र के प्रबंधक और सखी वन स्टेप रामगढ़ में लिखित शिकायत दर्ज करा चुके हैं। उन पर पत्नी द्वारा मारपीट व प्रताड़ित कराने का आरोप पूरी तरह गलत है। पिछले चार साल से पत्नी वर्षा श्रीवास्तव लगातार आत्महत्या करने की धमकी देकर उनको मानसिक रूप से प्रताड़ित करती है। करीबियों, खासकर महिलाओं के साथ अवैध संबंध का आरोप लगाकर बदनाम करती है। मुझपर मारपीट व दूसरी औरतों के साथ अवैध संबंध का आरोप लगाते हुए फेसबुक व अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से बदनाम करती है। पत्नी लगातार गाड़ी व बंगला खरीदने की दबाव बनाती है। पूर्व में उनकी पत्नी दिल्ली और उत्तर प्रदेश में कई संगीन आरोप लगाकर मुकदमा कर चुकी है। इलाहाबाद में 2016 में भी पत्नी एक व्यक्ति पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाकर प्राथमिकी दर्ज करा चुकी है। वाराणसी व लखनऊ कैंट में भी वर्ष 2014 व 2015 में शारीरिक शोषण सहित कई आरोप लगाकर प्राथमिकी दर्ज करा चुकी है। एसडीपीओ किशोर कुमार रजक के मुताबिक उनकी पत्नी वर्षा श्रीवास्तव मानसिक रोगी है। वह लगातार उनके विरुद्ध थाना व पुलिस अधीक्षक को आवेदन देते रहती है।

Edited By: M Ekhlaque