रांची, जागरण संवाददाता। झारखंड के रांची ज‍िले के खलारी थाना क्षेत्र के राय मुस्लिम मोहल्‍ला में अमन साव गिरोह के अपराधी मो महमूद आलम उर्फ नेपाली को ग‍िरफ्तार करने गई पुल‍िस टीम पर स्थानीय ग्रामीणों ने हमला कर द‍िया। पुल‍िस टीम में शाम‍िल अध‍िकारी वर्दी में नहीं थे। ग्रामीणों का आरोप है क‍ि पुल‍िस जवान महिला के साथ छेड़छाड़ कर रहे थे।

पुल‍िस टीम के साथ ग्रामीणों ने की धक्‍का मुक्‍की

उग्र ग्रामीणों ने पुल‍िस टीम को घेर ल‍िया। टीम में पांच पुरुष और दो महिला जवानों से धक्का मुक्की करने लगे। उनके हथ‍ियार भी छीन ल‍िए। पुल‍िस टीम ग्रामीणों के आगे पूरी तरह बेबश नजर आ रही थी। पुल‍िस टीम के जवान बार बार बता रहे थे क‍ि वह पुल‍िस जवान हैं, लेक‍िन ग्रामीण पुल‍िस मानने को तैयार नहीं थे।

पुल‍िस जवानों को उग्रवादी बताना शुरू कर द‍िया

जब ग्रामीणों ने पुल‍िस जवानों को उग्रवादी बताना शुरू क‍िया तो पुल‍िस टीम के अध‍िकार‍ियों ने इसकी जानकारी वरीय अधिकारियों के साथ-साथ लोकल थाना पुलिस को दी। उन्‍होंने वरीय अध‍िकार‍ियों से ग्रामीणों की बात कराई। इस बीच सूचना म‍िलने पर खलारी डीएसपी अनिमेष नैथानी के नेतृत्व में स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

स्‍थानीय पुल‍िस ने पहुंच कर सभी को बचाया

स्‍थानीय पुलिस के पहुंचने के बाद ग्रामीणों ने छापेमारी करने पहुंची पुल‍िस टीम से छीने गए पिस्टल और गोलियां लौटा द‍िया। एक गोली कम म‍िली है। पुल‍िस टीम ज‍िस अपराधी को पकड़ने के ल‍िए गई थी, वह ग‍िरफ्तार नहीं हो सका। पुल‍िस के पहुंचने से पहले ही अपराधी भाग निकला।

अपराधी की पत्‍नी ने छ‍िपा द‍िया मोबाइल

मालूम हो क‍ि पुलिस टीम छापेमारी करने गई तो उस समय मोबाइल का लोकेशन घर का ही मिल रहा था। टीम ने घर के अंदर प्रवेश कर मोबाइल खोजना शुरू किया। आरोप है कि इसी बीच अपराधी की पत्नी ने मोबाइल को छिपा ल‍िया। मोबाइल जब नहीं मिला तो पुल‍िस टीम ने सख्ती दिखाई। इसी बात पर महिला हंगामा करने लगी।

अमन साहू के इशारे पर लेवी वसूलने का आरोप

जानकारी के अनुसार मो महमूद उर्फ नेपाली पर अमन साहू गैंग से जुड़े होने का आरोप है। अमन साहू के इशारे पर व्यवसायियों से लेवी वसूलने का भी आरोप है। पुलिस को लगातार अपराधी के अमन साहू गैंग के सदस्यों से बातचीत होने की जानकारी मिल रही थी।

क्या कहते हैं ग्रामीण एसपी

उधर, ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने कहा क‍ि पुल‍िस टीम के साथ मारपीट की बात गलत है। सादे लिवास में होने के कारण ग्रामीण नहीं पहचान पाए। जैसे ही स्थानीय पुलिस को सूचना मिली मौके पर पहुंचकर पुल‍िस टीम को निकाल लिया।

Edited By: M Ekhlaque