रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड के मंडल कारा गुमला में गुंडों की शराब और कवाब पार्टी के मामले में एआइजी हामिद अख्तर व गुमला जिला प्रशासन की जांच रिपोर्ट की समीक्षा के बाद कारा महानिरीक्षक मनोज कुमार ने मंडल कारा गुमला के प्रभारी जेलर सहित चार को निलंबित कर दिया है। उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई होगी। इसके अलावा मंडल कारा गुमला के काराधीक्षक के खिलाफ विभागीय कार्रवाई चलेगी। उक्त जेल में अनुबंध पर कक्षपाल के पद पर तैनात दो भूतपूर्व सैनिकों का अनुबंध समाप्त कर दिया गया है। जेल में पार्टी करने वाले कुख्यात अपराधी सुजीत सिन्हा को केंद्रीय कारा दुमका में स्थानांतरित कर दिया गया है।

अपराधी सुजीत सिन्हा की तस्‍वीर वायरल हुई थी

गौरतलब है कि पिछले दिनों कुख्यात अपराधी सुजीत सिन्हा का गुमला मंडल कारा में पार्टी किए जाने संबंधित तस्वीर वायरल हुआ था। इस संबंध में खबर छपने के बाद जेल प्रशासन व गुमला जिला प्रशासन सक्रिय हुआ और उसकी उच्च स्तरीय जांच कराई गई। जेल आइजी मनोज कुमार के निर्देश पर एआइजी हामिद अख्तर ने भी पूरे मामले की जांच की, वहीं उपायुक्त गुमला के निर्देश पर एसडीओ व डीएसपी ने पूरे मामले की जांच की।

जांच में पता चला क‍ि फोटो गुमला जेल की है

हर स्तर पर जांच में इस बात की पुष्टि हो गई कि उक्त वायरल फोटो मंडल कारा गुमला का है। इसके बाद जांच समिति ने राज्य सरकार व कारा निरीक्षणालय से कार्रवाई की अनुशंसा की थी, जिसके बाद कारा महानिरीक्षक ने उक्त कार्रवाई की है। इस पूरे प्रकरण में गुमला थाना में प्राथमिकी भी दर्ज की गई है।

इनके-इनके खिलाफ जेल आइजी ने की कार्रवाई

  • मंडल कारा गुमला के अधीक्षक सुनील कुमार के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई शुरू करने की अनुशंसा।
  • मंडल कारा गुमला के सहायक कारापाल कौलेश्वर राम पासवान (प्रभारी कारापाल) को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई के अधीन करने का निर्णय।
  • उच्च कक्षपाल मोहरा सांगा को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई के अधीन करने का निर्णय।
  • दफा इंचार्ज उपेंद्र राय को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई के अधीन करने का निर्णय।
  • कक्षपाल मुन्ना साह को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई के अधीन करने का निर्णय।
  • अनुबंध पर कक्षपाल के पद पर कार्यरत दो भूतपूर्व सैनिक मारकुश लकड़ा व वाल्टर केरकेट्टा का अनुबंध समाप्त करने का निर्णय।
  • कुख्यात अपराधी सुजीत सिन्हा को प्रशासनिक आधार पर केंद्रीय कारा दुमका में स्थानांतरण किया गया।

Edited By: M Ekhlaque