रांची, जेएनएन। Jharkhand Coronavirus News Today झारखंड में कोरोना कहर बरपा रहा है। यहां अब डॉक्टर, नर्स व टेक्नीशियन व अन्य स्वास्थ्य कर्मी भी कोरोना पॉजिटिव मिलने लगे हैं। राज्‍य के कई जिलों में अब डॉक्‍टर, टेक्‍नीशियन कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। लैब को सील करना पड़ रहा है। पूर्वी सिंहभूम में अब तक एमजीएम जमशेदपुर समेत नौ अस्पतालों के डॉक्टर, मरीज, नर्स और टेक्नीशियन सहित कई कर्मचारी पॉजिटिव निकले हैं।

साथ ही कई उनके संपर्क में आए हैं। इस कारण इन नौ अस्पतालों के अलग-अलग विभागों को सील कर दिया गया है। इन सभी अस्‍पतालों में करीब 150 से अधिक डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मचारी क्वारंटाइन कर दिए गए हैं। तीन डॉक्टरों और नर्स के पॉजिटिव मिलने के बाद एमजीएम के कुछ विभागों को सील किया गया है। रांची स्थित रिम्स के माइक्रोबायोलॉजी विभाग सील होने के बाद यहां शनिवार को ऑर्थो विभाग भी सील करना पड़ा।

शनिवार को भी जांच में रिम्स से 11 मरीज मिले। इनमें रिम्स के ऑर्थोपेडिक विभाग के तीन जूनियर डॉक्टर, एक इंटर्न और दो नर्स शामिल हैं। वहीं सदर अस्पताल के लैब में कार्यरत एक लैब टेक्नीशियन में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। उधर पूर्वी सिंहभूम में जिला परिवहन कार्यालय में तीन कर्मचारियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद डीसी ऑफिस को तीन दिनों के लिए सील कर दिया गया है।

डीसी सूरज कुमार डीसी ऑफिस के 70 अधिकारियों व कर्मचारियों की जांच हुई है। वहीं पूर्वी सिंहभूम जिले के परिसदन (सर्किट हाउस) को भी सील कर दिया गया है। शनिवार दोपहर करीब एक बजे जब सील किया जा रहा था, जुगसलाई के विधायक मंगल कालिंदी व पोटका क्षेत्र के विधायक संजीव सरदार समेत झामुमो के कई अन्य नेता भी वहां मौजूद थे।

परिवहन मंत्री चंपई सोरेन भी थे, पर कुछ देर पहले निकल गए थे। शनिवार को कोल्हान के तीन नर्सिंग होम को सील किया गया। इसमें साकची स्थित लाइफ लाइन नर्सिंग होम को तीन दिनों के लिए बंद किया गया है। ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर सहित सभी कर्मचारियों को होम क्वारंटाइन की सलाह दी गई है। लाइफ लाइन नर्सिंग होम में 13 जुलाई को बुखार, मधुमेह व कई अन्य बीमारियों का इलाज कराने साकची का एक कारोबारी पहुंचा था।

16 जुलाई को कोरोना जांच में उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उस दौरान लाइफ लाइन में सात मरीज भर्ती थे, छुट्टी दे दी गई। उधर, सरायकेला खरसावां के आदित्यपुर में शिवा नर्सिंग होम व सहाय नर्सिंग होम को भी अगले 48 घंटे के लिए सील कर दिया गया है।

यहां शुक्रवार को एक-एक कोरोना पॉजिटिव मरीज इलाज कराने पहुंचे थे। तब दोनों की रिपोर्ट नहीं आई थी। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद एक को टीएमएच व दूसरे को एमजीएम अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया। दोनों नर्सिंग होम के डॉक्टर सहित सभी कर्मचारी होम क्वारंटाइन हो गए हैं। तीनों नर्सिंग होम मिलाकर करीब 50 से अधिक कर्मचारी होम क्वारंटाइन में चले गए हैं।

चतरा का टंडवा थाना भी सील

चतरा के टंडवा में पांच पुलिसकर्मियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद टंडवा थाना को सील करते हुए आमलोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। पिछले सप्ताह सीसीएल का एक सुरक्षा गार्ड कोरोना संक्रमित पाया गया था। इसके बाद यहां पांच पुलिसकर्मियों की जांच की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई। इनके संपर्क में आए लोगों की भी जांच हो रही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस