रांची, राज्य ब्यूरो। राज्य में एक ओर कोरोना के पुराने मरीज स्वस्थ हो रहे हैं तो दूसरी ओर इसका संक्रमण भी लगातार बढ़ रहा है। गुरुवार को स्वस्थ होनेवालों की संख्या अधिक रही, जबकि नए मरीज इसकी तुलना में थोड़़े कम मिले। राज्य में जहां 21 मरीज जहां कोरोना को मात देते हुए संक्रमणमुक्त हुए वहीं, 18 नए मरीज भी मिले। इसी के साथ कोरोना को मात देने वाले लोगों की संख्या 213 हो चुकी है। वहीं अब झारखंड में 260 सक्रिय मरीज हैैं। इसी तरह अबतक के कुल संक्रमितों की संख्या 477 हो गई है।

गुरुवार को मिले 18 नए मरीजों में चार मरीज ऐसे हैं जो रांची के मेडिका अस्पताल में अपना इलाज कराने पहुंचे थे। अस्पताल ने इलाज शुरू करने से पहले सैंपल जांच के लिए कोलकाता स्थित मेडिका अस्पताल भेजा तो उसमें चार के पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई। इनमें रांची, गिरिडीह, गुमला और धनबाद के एक-एक मरीज हैं। इनमें गुमला का सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति भी शामिल है जिसका इलाज अभी रिम्स में हो रहा है। वहीं, गिरिडीह के मरीज की बुधवार को ही मौत हो चुकी थी। परिजन उसे अस्पताल से स्वेच्छा से छुट्टी कराकर ले गए थे, लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई थी।  

झारखंड में कोरोना से जंग

  • दुर्घटना में घायल समेत मेडिका में जांच कराने पहुंचे चार मरीज भी निकले पॉजिटिव
  • राज्य में अब 260 सक्रिय मरीज, कुल संक्रमितों की संख्या 477 तक पहुंची
  • एक और गर्भवती महिला पाई गई संक्रमित, बढ़ी चिंता  
  • पॉजिटिव पाए गए गिरिडीह के मरीज की हो चुकी है मौत
  • स्वस्थ हुए मरीजों में 18 गढ़वा के, कोडरमा के 2 और चतरा के एक मरीज

इधर, रांची के रिम्स स्थित लैब में हुई जांच में भी तीन नए पॉजीटिव केस मिले। इनमें दो मरीज गढ़वा और एक रांची के हैं। रांची की मरीज कांके की रहनेवाली महिला है, जो गर्भवती है। अन्य मरीजों में छह पूर्वी सिंहभूम, तीन बोकारो तथा दो गुमला के हैं। बोकारो के तीन मरीजों में एक कानपुर से दूसरा महाराष्ट्र से लौटा था। वहीं ठीक होने वाले मरीजों में गढ़वा के 18, कोडरमा के 2 तथा चतरा के एक मरीज शामिल हैैं। 

कोरोना का ट्रेंड जानने के लिए तीन जिलों में कम्युनिटी सर्वे शुरू

झारखंड में कोविड-19 का ट्रेंड जानने के लिए तीन जिलों में कम्युनिटी सर्वे शुरू हो चुका है। इसके लिए भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) तथा नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) की 20 सदस्यीय टीम झारखंड पहुंची है। आइसीएमआर के प्रोजेक्ट मैनेजर अनुशील आनंद के नेतृत्व में पहुंची इस टीम ने गुरुवार को पाकुड़ के दस क्लस्टरों से 400 लोगों का रैंडमली सैंपल लिया। इसे जांच के लिए चेन्नई स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च इन ट्यूबरक्लोसिस भेजा जा रहा है जहां से रिपोर्ट सीधे आइसीएमआर को जाएगी।

सिमडेगा व पाकुड़ में लिया सैंपल, अब लातेहार जाएगी टीम

इससे पहले इस टीम ने पिछले दिनों सिमडेगा के दस क्लस्टरों में 400 लोगों का सैंपल जांच के लिए चेन्नई भेजा था। टीम के नेतृत्व कर रहे अनुशील आनंद ने बताया कि ब्लड सैंपल की एंटीबॉडी जांच होगी जिससे पता चलेगा कि लोगों के कोविड से लडऩे की प्रतिरोधक क्षमता कितनी है। टीम अब लातेहार में लोगों का सैंपल लेगी। बता दें कि केंद्र सरकार ने कम्युनिटी आधारित सर्वे के लिए देश भर में कुल 69 जिलों का चयन किया है, जिनमें झारखंड के तीन जिले लातेहार, पाकुड़ तथा सिमडेगा भी शामिल हैं। इन जिलों का चयन रैंडम किया गया है।

हॉस्पिटल आधारित सर्वे भी होगा शुरू

कोविड-19 का ट्रेंड जानने के लिए हॉस्पिटल आधारित सर्वे भी होना है जो आरटी पीसीआर (रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पॉलीमरेज चेन रिएक्शन) टेस्ट होगा। यह जांच रूटीन टेस्टिंग से अलग होगी। हॉस्पिटल बेस्ड सर्वे के लिए प्रत्येक जिले से दस-दस अस्पतालों का चयन किया जाएगा। इनमें छह सरकारी तथा चार निजी अस्पताल शामिल हैं। यहां मरीजों का सैंपल लिया जाएगा।

झारखंड में 28 मई तक कहां कितने मरीज

  1. रांची : 130
  2. गढ़वा : 60
  3. हजारीबाग : 55
  4. कोडरमा : 34
  5. पूर्वी सिंहभूम : 38
  6. पलामू : 17
  7. बोकारो : 20
  8. गुमला : 20
  9. गिरिडीह : 17
  10. पश्चिमी सिंहभूम : 15
  11. रामगढ़ : 15
  12. धनबाद : 11
  13. सिमेडगा : 10
  14. लातेहार : 10
  15. देवघर : 05
  16. सरायकेला-खरसावां : 05
  17. पाकुड़ : 04
  18. लोहरदगा : 03
  19. खूंटी : 03
  20. जामताड़ा : 02
  21. दुमका : 02
  22. चतरा : 01
  23. गोड्डा : 01

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस