रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand News झारखंड में कांग्रेस के विधायकों की संख्या में इजाफा होने के साथ ही पार्टी आखिरी मंत्री पद के लिए दबाव बनाने की तैयारियों में जुट गई है। सरकार में शामिल होने के बाद कई ऐसे मौके आए हैं जब कांग्रेस की मांग को झामुमो ने नकार दिया है लेकिन इस बार कांग्रेसी कुछ अधिक गंभीरता से प्रयास कर रहे हैं। माना जा रहा है कि एक पद और मिला तो पार्टी किसी महिला विधायक का नाम इसके लिए आगे करेगी। पार्टी में छह महिला विधायकों में से किसी एक का नाम आगे बढ़ाने की तैयारी है। शीघ्र ही समन्वय समिति की बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा होगी। सदन में अधिकृत तौर पर कांग्रेस विधायकों की संख्या अब 17 हो गई है। प्रदीप यादव को अभी तक विधानसभा में कांग्रेस की मान्यता नहीं मिली है।

कांग्रेस हमेशा से 18 विधायक होने का दावा करते रही है लेकिन मान्यता के नाम पर 16 विधायक ही कांग्रेस कोटे में बताए जा रहे थे। झारखंड विकास मोर्चा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए प्रदीप यादव एवं बंधु तिर्की को जोड़कर 18 विधायकों के आधार पर कांग्रेस एक और सीट की मांग पहले भी कर चुकी है। अब कांग्रेस के पास अधिकृत तौर पर 17 विधायक हो गए हैं और इस आधार पर पार्टी अपनी दावेदारी कर सकती है। कांग्रेस में अंदर ही अंदर इसकी तैयारी भी शुरू हो चुकी है और समन्वय समिति की बैठक में इसपर चर्चा करने की बात कही जा रही है।

समन्वय समिति की बैठक में हम लोग चर्चा करेंगे कि सरकार 11 मंत्रियों से चलेगी या फिर 12 मंत्रियों से। अधिक मंत्री के साथ सरकार चलाने की बात तय हुई तो निश्चित रूप से कांग्रेस का दावा बनता है। हालांकि अंतिम निर्णय आलाकमान को ही करना है। राजेश ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष।

झारखंड हाई कोर्ट से राहुल गांधी को राहत

झारखंड हाई कोर्ट के जस्टिस एसके द्विवेदी की अदालत में कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राहुल गांधी की क्वैशिंग (निरस्त) याचिका पर सोमवार को सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान राहुल गांधी के अधिवक्ता ने समय दिए जाने की मांग की, जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया। अदालत ने राहुल गांधी को पूर्व में मिली अंतरिम राहत की अवधि अगली सुनवाई तक बढ़ा दी है। इस मामले में अगली सुनवाई 15 जुलाई को होगी।

बता दें कि राहुल गांधी की ओर से मोदी नाम वालों पर आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में रांची के निचली अदालत के आदेश को उच्‍च न्‍यायालय में चुनौती दी गई है। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान रांची के मोरहाबादी मैदान में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि सभी मोदी नाम वाले चोर होते हैं। राहुल गांधी के इस आपत्तिजनक बयान से आहत होकर अधिवक्ता प्रदीप मोदी ने सिविल कोर्ट, रांची में एक शिकायतवाद दर्ज कराई है। इस पर अदालत ने संज्ञान लेते हुए राहुल गांधी को समन जारी किया है। इसी आदेश के खिलाफ राहुल गांधी की ओर से झारखंड हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है।

Edited By: Alok Shahi