रांची, (नीरज अम्बष्ठ)। Jharkhand Teacher Appointment झारखंड के प्रारंभिक विद्यालयों में अब पुराने वेतनमान पर सहायक शिक्षकों की नियुक्ति नहीं होगी। वर्तमान में जो शिक्षक कार्यरत हैं, वे कार्य करते रहेंगे। जो पद रिक्त हैं उनपर नई बहाली नहीं होगी। राज्य सरकार ने ऐसे 17,446 शिक्षकों के रिक्त पदों को सरेंडर कर दिया है। ये सभी पद इंटर प्रशिक्षित सहायक शिक्षकों के थे। स्नातक प्रशिक्षित सहायक शिक्षकों के पद बरकरार रहेंगे। राज्य सरकार ने निश्शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम, 2009 के प्रविधानों के तहत राज्य के छात्र-शिक्षक अनुपात (पीटीआर) की स्थिति में सुधार के लिए प्रारंभिक विद्यालयों में सहायक आचार्य का नया कैडर गठित किया है।

झारखंड सरकार ने 17446 पद सरेंडर कर दिया

प्राथमिक विद्यालयों में कक्षा एक से पांच के लिए इंटरमीडिएट प्रशिक्षित सहायक आचार्य के 20,825 तथा मध्य विद्यालयों में कक्षा छह से आठ के लिए स्नातक प्रशिक्षित सहायक आचार्य के 29,175 पद सृजित किए गए हैं। अब पूर्व में लेवल-6 में सृजित इंटर प्रशिक्षित सहायक शिक्षक के वैसे 17,446 पदों को सरेंडर करते हुए उन्हें लेवल-4 में सृजित सहायक आचार्य के नए कैडर में जिलावार आवंटित कर दिया है। स्नातक प्रशिक्षित सहायक शिक्षकों के पद सरेंडर नहीं होंगे, क्योंकि इनके 50 प्रतिशत पद प्रोन्नति से भरे जाते हैं, जबकि इतने ही पद सीधी नियुक्ति से भरे जाते हैं। सीधी नियुक्ति का पद रिक्त नहीं है तथा शेष आधे पद वर्तमान में कार्यरत इंटर प्रशिक्षित सहायक शिक्षकों की प्रोन्नति से भरे जाएंगे।

अब कम वेतनमान पर होगी शिक्षकों की बहाली

बता दें कि पिछली बार हुई नियुक्ति कक्षा एक से पांच के लिए इंटर प्रशिक्षित सहायक शिक्षकों के पदों पर लेवल-छह में 35,400 के वेतनमान (एंट्री लेवल) में हुई थी। इसी तरह, कक्षा छह से आठ के शिक्षकों के स्नातक प्रशिक्षित सहायक शिक्षकों के पदों पर नियुक्ति लेवल-आठ में 47,600 के वेतनमान (एंट्री लेवल) पर हुई थी। अब कक्षा एक से पांच के लिए इंटर प्रशिक्षित सहायक आचार्य के पदों पर नियुक्ति लेवल-चार में 25,500 के वेतनमान (एंट्री लेवल) में होगी। इसी तरह, कक्षा छह से आठ के लिए स्नातक प्रशिक्षित सहायक आचार्य के पदों पर नियुक्ति लेवल-पांच में 29,200 के वेतनमान (एंट्री लेवल) पर होगी।

इंटर प्रशिक्षित सहायक शिक्षकों के कितने पद सरेंडर

  • बोकारो : 645
  • चतरा : 495
  • देवघर : 775
  • धनबाद : 998
  • दुमका : 1,123
  • गढ़वा : 475
  • गिरिडीह : 983
  • गोड्डा : 1,109
  • गुमला : 429
  • हजारीबाग : 430
  • जामताड़ा : 647
  • खूंटी : 272
  • कोडरमा : 265
  • लातेहार : 640
  • लाेहरदगा : 344
  • पाकुड़ : 684
  • पलामू : 721
  • पश्चिमी सिंहभूम : 1,427
  • पूर्वी सिंहभूम : 1,292
  • रामगढ़ : 345
  • रांची : 1,165
  • साहिबगंज : 832
  • सरायकेला खरसावां : 851
  • सिमडेगा : 199

Edited By: M Ekhlaque

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट