रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की प्रथम पुण्यतिथि पर मलिन बस्तियों के लोगों को अटल मुहल्ला क्लिनिक की सौगात दी। उन्होंने रांची के जोजो पहाड़ वार्ड 2 में इस क्लिनिक का शुभारंभ किया। पहले चरण में 25 अटल मुहल्ला क्लिनिक खोले जा रहे हैं। 25 सितंबर को पंडित दीनदयाल उपाध्याय जयंती तक 100 ऐसे क्लिनिक खोले जाएंगे।

अटल मोहल्‍ला क्लिनिक में शहरी क्षेत्र के गरीब लोगों को अपने घर के नजदीक में ही प्राथमिक इलाज की सुविधा मिल सकेगी। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर आयुष्मान भारत का लाभ देनेे के लिए गोल्डन कार्ड बनाने का अभियान पूरे राज्य में शुरू किया। अब लाभुक बिना कोई शुल्क दिए, प्रज्ञा केन्द्र एवं स्वास्थ्य केन्द्र में अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकेंगे। इस अभियान के तहत 25 सितंबर तक  2 करोड़ 45 लाख लोगों का कार्ड बनाने का लक्ष्य है।

सीएम ने कहा, दिल्ली का ठेकेदार नहीं, राज्य की महिलाएं बनाएंगी पोषाहार
राज्य सरकार ने भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि पर शहरी मलिन बस्तियों में रहनेवाले लोगों को अटल मोहल्ला क्लिनिक का तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शुक्रवार को रांची के एदलहातु में जोजो पहाड़ के बगल में स्थित सामुदायिक भवन में अटल मोहल्ला क्लिनिक का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के 2.26 करोड़ गोल्डन कार्ड निश्शुल्क बनाने के अभियान (16 अगस्त-25 सितंबर) का भी शुभारंभ किया। उन्होंने सांकेतिक रूप से सात लाभुकों को ये कार्ड भी प्रदान किए। कार्ड बनाने के लिए राशि का भुगतान अब राज्य सरकार करेगी। पहले प्रज्ञा केंद्रों के माध्यम से इसे बनाने के लिए लाभुकों को 30 रुपये देने पड़ते थे।

सभी प्रखंडों में दो-दो करोड़ की लागत से लगेगा प्लांट  
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले चरण में 17 जिलों में 25 मोहल्ला अटल क्लिनिक खोली जा रही हैं। 25 सितंबर तक पूरे राज्य में ऐसी कुल सौ क्लिनिक खोले जाने की योजना है। उन्होंने कहा कि गरीब लोग स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह रहते हैं। मोहल्ला क्लिनिक खुल जाने से वे सहज इलाज करा सकेंगे। उन्होंने अपने बचपन का उदाहरण देते हुए कहा कि नींबू पानी पीकर दिनभर पेट दर्द को दबाता रहा। इसका नतीजा हुआ कि बाद में परेशानी बढ़ जाने से ऑपरेशन तक कराना पड़ा। इस अवसर पर उन्होंने लोगों से स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने तथा कम उम्र में बच्चियों को शादी नहीं करने की नसीहत भी दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उज्ज्वला योजना के तहत 83 लाख महिला लाभुकों को डबल सिलेंडर देने का शुभारंभ 23 अगस्त को किया जाएगा।

2.26 करोड़ गोल्डन कार्ड बनाने शुरू हुआ अभियान
मुख्‍यमंत्री ने कहा, सरकार ने आंगनबाड़ी केंद्रों के लिए रेडी टू ईट पोषाहार बनाने का काम सखी मंडल की महिलाओं को देने का निर्णय लिया है। अब 500 करोड़ रुपये के रेडी टू ईट का सप्लाई दिल्ली का ठेकेदार नहीं सखी मंडल की महिलाएं करेंगी। बताया कि रामगढ़ में इसके लिए दो करोड़ की लागत से प्लांट स्थापित हो रहा है। यह सफल हुआ तो राज्य के सभी प्रखंडों में प्लांट की स्थापना होगी। मुख्यमंत्री ने प्रत्येक मोहल्ला क्लिनिक में रेबीज का टीका भी उपलब्ध कराने की बात कहते हुए सभी सिविल सर्जनों का प्रत्येक दिन इसका निरीक्षण करने का भी निर्देश दिया।

इस अवसर पर नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि निजी अस्पताल आयुष्मान भारत में गड़बड़ी कर रहे हैं। इनका मीटर तेजी से घूमता है। ऐसे अस्पतालों पर सरकार कार्रवाई भी कर रही है। सांसद संजय सेठ ने हर गांव में इस तरह की क्लिनिक खोलने पर जोर दिया। रांची की मेयर आशा लकड़ा ने गोल्डन कार्ड बनाने के लिए प्रत्येक वार्ड पार्षद के कार्यालयों में कैंप लगाने की बात कही। इस अवसर पर विधायक जीतू चरण राम, उपमहापौर संजीव विजयवर्गीय, स्वास्थ्य सचिव नितिन मदन कुलकर्णी, नगर विकास सचिव अजय कुमार सिंह आदि उपस्थित थे।

15 फीसद पेट्रोल, डीजल की खपत झारखंड में
मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड में पहले आठ-नौ फीसद ही पेट्रोल, डीजल की खपत होती थी। अब झारखंड देश का पहला राज्य है जहां इसकी खपत 15 फीसद हो गई है। इससे पता चलता है कि राज्य के लोगों की क्रय शक्ति बढ़ी है। झारखंड विकास की ओर उन्मुख है। उन्होंने यूएनडीपी की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि झारखंड दुनिया का दूसरा राज्य है जहां के लोग तेजी से गरीबी रेखा से बाहर आ रहे हैं।

.... तो गरीबों को खर्च करने पड़ते 2.25 सौ करोड़
मुख्यमंत्री ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत दस माह में 2.27 हजार लोगों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में कराया गया। इसपर 2.25 सौ करोड़ रुपये खर्च हुए। उन्होंने कहा कि यह योजना शुरू नहीं होती तो यह राशि गरीबों को खर्च करनी पड़ती।

ये सुविधाएं रहेंगी क्लिनिक में

  1. टीकाकरण, एनीमिया, टीबी, मलेरिया, उच्च रक्तचाप, मधुमेह की जांच, तीन प्रकार के कैंसर ओरल, स्तन तथा ग्रीवा कैंसर की स्क्रीनिंग
  2. प्रसव पूर्व तथा प्रसव के बाद देखभाल।
  3. सुबह आठ बजे से दस बजे और शाम में छह से आठ बजे तक क्लिनिक खुला रहेगा।

यह भी पढ़ें : हेल्थ केयर समिट में बोले रघुवर, 16 से शहरी क्षेत्रों में खुलेगा मोहल्‍ला क्लिनिक

Posted By: Alok Shahi