रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड कैडर के 1989 बैच के आइपीएस अधिकारी अजय भटनागर केंद्र में भी एडीजी रैंक में इंपैनल हो गए हैं। केंद्र सरकार की कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने पूरे देश के 1989 व 1990 बैच के आइपीएस अधिकारियों के लिए एडीजी व एडीजी समानांतर पद पर विचार किया था। इसमें सिर्फ 24 आइपीएस अधिकारी ही एडीजी रैंक में इंपैनल हुए हैं।

इनमें 1989 बैच के सिर्फ तीन आइपीएस व 1990 बैच के सिर्फ 21 आइपीएस अधिकारियों को एडीजी रैंक में इंपैनल किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इससे संबंधित अधिसूचना 15 जनवरी को जारी की है। केंद्र में एडीजी रैंक में इंपैनल के लिए झारखंड से चार आइपीएस अधिकारियों का नाम भेजा गया था।

इनमें 1989 बैच के आइपीएस अधिकारी अजय भटनागर (वर्तमान में सीबीआइ में प्रतिनियुक्त) व अजय कुमार सिंह (वर्तमान में झारखंड में एडीजी विशेष शाखा) के अलावा 1990 बैच के आइपीएस अधिकारी अनिल पाल्टा (झारखंड में एडीजी प्रशिक्षण) व अनुराग गुप्ता (झारखंड में एडीजी सीआइडी) शामिल थे। इन चार आइपीएस अधिकारियों में झारखंड से सिर्फ 1989 बैच के आइपीएस अधिकारी अजय भटनागर ही केंद्र में एडीजी रैंक में इंपैनल हुए हैं। इस वर्ष तीन आइपीएस अधिकारी अजय कुमार सिंह (1989 बैच), अनिल पाल्टा (1990 बैच) व अनुराग गुप्ता (1990 बैच) का नाम कट गया है।

एडीजी रैंक में इंपैनल होने वालों में सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश कैडर के

इस वर्ष एडीजी रैंक में इंपैनल होने वाले 24 आइपीएस अधिकारियों में सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश कैडर के 1990 बैच के छह आइपीएस अधिकारी हैं। इसके अलावा, झारखंड से एक, महाराष्ट्र से दो, राजस्थान से तीन, आंध्र प्रदेश से एक, बिहार से एक, हिमांचल प्रदेश से एक, हरियाणा से एक, जम्मू-काश्मीर से एक, केरल से एक, कर्नाटक से एक, सिक्किम से एक, तमिलनाडु से एक, त्रिपुरा से एक व उत्तराखंड से एक आइपीएस अधिकारी शामिल हैं।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस