रांची, जेएनएन। पूर्व वित्‍त मंत्री, कानूनविद और भाजपा के वरिष्‍ठ नेता अरुण जेटली का दिल्‍ली में दोपहर 12 बजे के करीब निधन हो गया है। वे 66 साल के थे। जेटली के निधन की खबर सुनकर झारखंड भाजपा के नेताओं में शोक की लहर दौड़ गई। नेताओं ने जेटली को एक कुशल राजनेता बताते हुए गहरी संवेदना जताई है। मुख्‍यमंत्री रघुवर दास ने उनके निधन को राजनीति में बड़ी शून्‍यता से जोड़ा है।
वरिष्ठ नेता के निधन का समाचार मिलते ही पार्टी ने चुनाव को लेकर बुलाई गई सभी अहम बैठकों को रद कर दिया। झारखंड के विधानसभा प्रभारी ओम प्रकाश माथुर वापस लौट गए। वहीं, मुख्यमंत्री रघुवर दास भी देर शाम दिल्ली के लिए रवाना हो गए। सीएम ने रविवार को अपना दुमका का कार्यक्रम भी स्थगित कर दिया। भाजपा ने विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर शनिवार को प्रदेश स्तर पर कई अहम बैठक बुलाई थी। बैठक में भाग लेने के लिए विशेष तौर पर पार्टी के विधानसभा प्रभारी ओम प्रकाश माथुर और सह प्रभारी नंद किशोर यादव रांची पहुंचे थे।

कोर कमेटी की अहम बैठक के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री के निधन का समाचार मिला। समाचार मिलते ही कोर कमेटी सहित अन्य सभी बैठकों को रद कर दिया गया। रविवार को होने वाली बैठकों को भी स्थगित कर दिया गया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री के निधन का समाचार मिलते ही भाजपा कार्यालय में नेताओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया। विधानसभा प्रभारी ओम माथुर और सह प्रभारी नंद किशोर यादव के अलावा, प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा, मुख्यमंत्री रघुवर दास, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा समेत तमाम अन्य नेता काफी देर तक प्रदेश कार्यालय में रहे, उन्होंने वरिष्ठ नेता के निधन पर शोक जताया।

इन नेताओं ने जताया शोक
अरुण जेटली जी के निधन से दुखी हूं। आज भारतीय जनता पार्टी ने परिवार के एक अभिन्न सदस्य को खो दिया। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दे एवं शोक-संतप्त परिजनों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य व संबल प्रदान करें। -रघुवर दास, मुख्‍यमंत्री झारखंड

पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली जी के निधन से भारतीय राजनीति को बहुत बड़ा नुकसान हुआ।वे करोड़ों भारतीयों की पसंदीदा राजनेता थे।उन्होंने वित्त मंत्री के पद पर रहते हुए कई ऐतिहासिक फैसले लिए।इस दुःख की घड़ी में हम सब उनके परिजनों के साथ हैं। भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें। ॐ शान्ति। -केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा
यह पार्टी की बड़ी क्षति है। मैने एक अच्छा मित्र खो दिया है। हम लोग राज्यसभा में दस वर्षों तक साथ रहे। पार्टी में साथ काम किया। उनके निधन का समाचार सुन पार्टी ने अपने सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं। -ओम प्रकाश माथुर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह भाजपा के विधानसभा चुनाव प्रभारी।
अरुण जेटली एक कुशल संगठक थे। उन्होंने वित्त मंत्री, सूचना प्रसारण मंत्री एवं रक्षा मंत्री के रूप में लंबे समय तक देश की सेवा की। वे एक कुशल अधिवक्ता एवं प्रखर वक्ता थे। उनके निधन से देश ने एक महान सपूत खो दिया है। -दिनेशानंद गोस्वामी, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष भाजपा।
देश के पूर्व वित्त मंत्री राज्‍यसभा में हमारा मार्गदर्शन करते रहे। अरुण जेटली जी के निधन की सूचना पाकर व्यथित हूं। उनके देहावसान से निर्मित शून्य की भरपाई संभव नहीं। अश्रुपूरित श्रद्धांजलि। ॐ शांति। -महेश पोद्दार, राज्‍यसभा सदस्‍य।
पूर्व वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के असामयिक निधन से गहरा दुख हुआ है। वह एक अच्‍छे वक्‍ता, वकील, प्रशासक और उच्‍च कोटि के नेता थे। दुख की इस घड़ी में मेरी संवदेना उनके परिवार के साथ है। -हेमंत सोरेन, नेता प्रतिपक्ष, झारखंड।
'अरुण जेटली का निधन मर्माहत करने वाला है। वे मेरे निजी मित्रों में थे। उनके साथ विगत 40 वर्षों का संबध रहा है। अत्यंत मेधावी, वाकपटु एवं असाधारण प्रतिभाशाली अधिवक्ता थे। पशुपालन घोटाला का मामला सुप्रीम कोर्ट गया तो उन्होंने न केवल हमारी तरफ से वकालत की, बल्कि अन्य वरिष्ठ वकीलों को भी इसके लिए तैयार किया। जेटली का निधन मेरे लिए एक निजी क्षति है, जिसकी भरपाई आजीवन संभव नहीं है। ईश्वर पुण्य आत्मा को चिर शांति प्रदान करे एवं उनके परिजनों तथा मित्र मंडली को शोक सहन करने की शक्ति दे।' -सरयू राय, खाद्य व आपूर्त्ति मंत्री, झारखंड।
देश के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन पार्टी एवं राष्ट्र के लिए अपूर्णीय क्षति है। जेटली जी अत्यंत काबिल एवं विद्वान राजनेता थे। वित्त मंत्री के रूप में उनके द्वारा किए गए उल्लेखनीय कार्यों ने देश की अर्थव्यवस्था को नई दिशा प्रदान की थी। सुषमा स्वराज के जाने के चंद दिनों बाद ही अरुण जेटली के निधन से पार्टी को दोहरा आघात लगा है। उनकी कमी पार्टी एवं देश को हमेशा खलती रहेगी। -विद्युत वरण महतो, सांसद, जमशेदपुर।
भाजपा के वरिष्ठ नेता और देश के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन से मर्माहत हूं। इनके निधन से देश को अपूरणीय क्षति हुई है, जिसकी भरपाई निकट भविष्य में संभव नहीं है। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। -अन्नपूर्णा देवी, सांसद, कोडरमा।
अरुण जेटली जी के निधन से भारतीय जनता पार्टी और देश को अपूर्णीय क्षति हुई है l उन्होंने बतौर वित्त मंत्री एक देश एक कर की व्यवस्था को लागू कराया l उनकी कमी हमेशा हम सबों को खलती रहेगी l -अमर कुमार बावरी, भू राजस्व मंत्री, झारखंड सरकार।
जेटली भले ही अपनी बीमारी की वजह से जिंदगी की लड़ाई हार गए। मगर जब तक जीवित रहे, भारतीय राजनीति में उनकी प्रभावी भूमिका बनी रही। उनके निधन से देश को अपूर्णीय क्षति हुई है, जिसकी भरपाई  संभव नहीं है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे। -चंद्रप्रकाश चौधरी, सांसद, गिरिडीह।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस