जासं, रांची : फेडरेशन चैंबर द्वारा गठित उप समितियों के चेयरमेन की संयुक्त बैठक शनिवार को चैंबर भवन में संपन्न हुई। बैठक में व्यवसाय और उद्योग जगत की समस्याओं और उनके निराकरण पर चर्चा हुई। चैंबर उपाध्यक्ष राहुल साबू और दीनदयाल बरनवाल ने सभी उप समितियों से व्यवसाय जगत की समस्याओं पर पैनी नजर बनाये रखने की अपील की करते हुए कहा कि उप समिति चेयरमेन जिला चैंबर आफ कामर्स के साथ भी बैठक कर हर जिले के व्यवसायिक समस्याओं की जानकारी लेकर अविलंब कार्रवाई भी सुनिश्चित करें। चैंबर अध्यक्ष धीरज तनेजा ने सभी उप समितियों के चेयरमेन से अपील करते हुए कि वे राज्यस्तर पर अपने कार्य को विस्तार दें। बैठक में चैंबर अध्यक्ष धीरज तनेजा, उपाध्यक्ष राहुल साबू, दीनदयाल बरनवाल, महासचिव राहुल मारू, सह सचिव विकास विजयवर्गीय, उप समिति चेयरमेन अनिस बुधिया, मुकेश अग्रवाल, साहित्य पवन, दिनेश प्रसाद साहू, राजीव सहाय, मुकेश कुमार, अंगद गांधी, मितेश ड्रोलिया, प्रमोद सारस्वत, बिनोद अग्रवाल, किशन अग्रवाल, प्रमोद चौधरी, इंद्रजीत सिंह, ब्रजेश कुमार, हैपी किगर, रवि अग्रवाल, अंकुर अनिल, महेंद्र जैन, सुबोध जयसवाल, प्रमोद श्रीवास्तव, संतोष अग्रवाल, गौतम शाही उपस्थित थे।

-------

मजदूरी संहिता नियमावली पर बैठक

मजदूरी संहिता (झारखंड) नियमावली, 2021 प्रारूप पर प्राप्त आपत्तियों व सुझाव पर विचार-विमर्श हेतु श्रमायुक्त-झारखंड की अध्यक्षता में श्रम भवन में आयोजित बैठक में झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स के प्रतिनिधियों ने मुख्य रूप से हिस्सा लिया। बैठक के दौरान भारत सरकार द्वारा बनाये गये चार लेबर कोड पर श्रमायुक्त एवं चीफ इंस्पेक्टर ऑफ फैक्ट्री के साथ चर्चा की गई, जिसमें चैंबर द्वारा ओएसएच कोड, वेजेस कोड, आइआर कोड और सोशल सिक्योरिटी कोड से संबंधित कई सुझाव दिए गए। बैठक में चैंबर के श्रम एवं मापतौल उप समिति के चेयरमेन प्रमोद सारस्वत तथा उद्योग उप समिति के चेयरमेन बिनोद अग्रवाल के अलावा विभाग की ओर से राकेश कुमार, श्यामसुंदर पाठक, उमेश जी, धनंजय कुमार व राहुल कुमार उपस्थित थे।

Edited By: Jagran