रांची, जागरण संवाददाता। Jharkhand Corona Alert : काेराेना (Corona) के बढ़ते मामलों के कारण अब हवाई यात्रा (Air Travel) में यात्रियों की संख्या में काफी गिरावट आई है। बिरसा मुंडा एयरपाेर्ट (Birsa Munda Airport) से 15 विमान उड़ान भर रहे हैं। रोजाना 7500 यात्री सफर कर रहे थे। मगर अब 3000 यात्री ही सफर कर रहे हैं। ऐसे में विमान कंपनियों (Airline Companies) की हालत खराब है। अब इन फ्लाइट (Flight) को यात्री नहीं मिल रहे हैं। कई एयरपोर्ट (Airport) से विमान उड़ान भरना कम कर दिया है, तो कुछ शहरों से विमान उड़ान भरना काम कर दिया है। कंपनियां फ्लाइट काे रद्द करना शुरू कर दी है।

कंपनी काे नहीं मिल रहा है अच्छा रिस्पांस

कई दफा यात्री नहीं मिलने की वजह से दाे विमान को रद कर दिया जाता है। यही हाल रहा ताे अभी और विमान रद हाे सकते हैं। कुछ दिन पहले गो एयरवेज को काेलकाता के लिए काफी कम यात्री मिल रहे थे। कंपनी काे अच्छा रिस्पांस नहीं मिल रहा है। ऐसी ही हालत दिल्ली, बंगलुरू, मुंबई सहित अन्य शहरों के लिए है। जहां 100 यात्री भी कंपनी काे नहीं मिल रहे हैं।

2900 यात्रियों ने कराया है टिकट कैंसिल

यही हाल रेलवे की है, जहां कोरोना को देखते हुए कई यात्रियों ने टिकट कैंसिल कर दिया। यात्री यात्रा करने से परहेज कर रहे है। बीते 13 दिनों में 2900 यात्रियों ने टिकट कैंसिल कराया है। इस दौरान 13.5 लाख रुपये का टिकट रिफंड यात्रियों ने किया है। यही वजह है कि ट्रेन में टिकट यात्रियों को मिल जा रहा है।

बिहार, बंगाल, पुणे, मुंबई और दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनों में सीटें खाली

कोरोना के पहले की स्थिति में टिकट नहीं मिलता था। वेटिंग लिस्ट में यात्रियों का नाम शामिल रहता था। मगर कोरोना सब कुछ है बदल दिया है। हर रोज कई यात्री अपना टिकट कैंसिल करा रहे हैं। बिहार, बंगाल, पुणे, मुंबई और दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनों में सीटें खाली हैं। पहले झांसी स्टेशन पर रोजाना 22 हजार से 25 हज़ार यात्री आवागमन करते थे। मगर अब इनकी संख्या घटकर आठ हजार के करीब पहुंच गई है।

धनबाद-एलेप्पी ट्रेन में चल रही है भीड़

हालांकि, दक्षिण भारत की ओर जाने वाली ट्रेनों में थोड़ी भीड़ है। हटिया से यशवंतपुर और बेंगलुरु जाने के अलावा धनबाद-एलेप्पी ट्रेन में भी भीड़ चल रही है, ट्रेनों में यात्रियों की संख्या में गिरावट नहीं आई है।

Edited By: Sanjay Kumar