रांची : आयकर विभाग राजधानी के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से मिले 19 लाख रुपये जब्त करेगा। यह राशि शनिवार को एयरपोर्ट पर रामानुज सिंह नाम के व्यक्ति के पास से बरामद की गई थी। मुंबई में रविवार को आयकर अधिकारियों ने उससे लगातार पूछताछ की। उसने बताया कि वह आदित्य बिड़ला ग्रुप में असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट (एवीपी) है। आयकर अधिकारियों ने उसका आइटीआर चेक किया तो उसमें नियोक्ता कंपनी का नाम हिंडाल्को लिखा था। वहीं, मौखिक रूप में उसने मुंबई के आयकर अधिकारियों को बताया कि सीआइएसएफ ने राची में रुपये प्लाट किए। मुंबई में आयकर विभाग की टीम ने उसे पूछताछ के बाद छोड़ दिया है।

रामानुज सिंह ने शनिवार को राची एयरपोर्ट पर जिस व्यक्ति से रुपये लेने की जानकारी दी थी, उसका नाम रामनारायण सिंह, चंद्रावती नगर, डिमना जमशेदपुर बताया था, जो फर्जी पाया गया। रुपयों के बारे में अबतक संतोषजनक जवाब नहीं मिला है। इसलिए आयकर विभाग रुपयों को विधिवत जब्त करेगा।

---

पिछले दिनों हादसे के बाद काफी चर्चा में रहा था हिडाल्को, प्लांट किया गया बंद :

पिछले दिनों रांची जिले के मुरी में हिडाल्को के प्लांट के पास रेडमड पौंड में विस्फोट के साथ बड़ा हादसा हुआ था। इसमें कई वाहन दब गए व तकरीबन 250 एकड़ जमीन पर जहरीला मलबा फैल गया था। इसके बाद से मुरी में हिंडाल्को की फैक्ट्री को पूरी तरह बंद कर दिया गया था। सरकार के आदेश पर झारखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने कंप्लीट क्लोजर का आदेश देते हुए हिडाल्को का सीटीओ (संचालन की अनुमति) कैंसिल कर दिया था और तमाम बिंदुओं पर कंपनी से जवाब-तलब किया था। प्रारंभिक जाच में पाया गया था कि हिडाल्को का फोकस उत्पादन पर अधिक और तय सुरक्षा के मानकों पर कम था। कंपनी में बॉक्साइट के रेड मड के निस्तारण की कोई व्यवस्था नहीं थी।

----------

Posted By: Jagran