जागरण संवाददाता, रांची : सीएम आवास के पास सरेशाम एसपीओ की हत्या के बाद सुरक्षा पर उठते सवालों के बीच सीएम ने डीजीपी को फटकार लगाई थी। इस फटकार के बाद सीएम आवास सहित पूरे वीवीआइपी इलाके को हाई सिक्योरिटी जोन बना दिया गया। इंटरसेप्टर वाहन के साथ पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। पुलिस इस प्रकार अलर्ट है कि प¨रदा को पर मारना भी मुश्किल होगा। इसका मुआयना करने दैनिक जागरण की टीम रात के 12 बजे सीएम आवास पहुंची तो पूर्व की तुलना में अधिक चौकस और सक्रिय पुलिस दिखी। दैनिक जागरण के वाहन को देख इंटरसेप्टर वाहन से पुलिसकर्मी उतर आए। सामने खड़े सशस्त्र पुलिस बल भी अलर्ट होकर सामने की ओर आने लगे। पूछा कहां जाना है, क्यों रुके हैं। बताने पर आगे बढ़ने दिया गया।

हॉट लिप्स चौक के पास से लेकर राम मंदिर चौक तक लहरिया (जिग-जैग) स्थिति में ट्रॉली बैरियर लगा दिए गए हैं। ताकि कोई वाहन सीधे तेजी से भाग न पाए। जाहिर है इस इलाके में सीएम, पूर्व सीएम, चीफ जस्टिस, दर्जन भर जज, आइएएस, आइपीएस, विधायक सहित अन्य वीवीआइपी रहते हैं। इस इलाके की सुरक्षा बेहतर होना चाहिए, लेकिन पुलिस सुरक्षा के प्रति तब सचेत हुई, जब इस इलाके में घुस कर एक की हत्या कर दी गई। बॉक्स --

घूम रही थी इंटरसेप्टर, कंट्रोल रूम से निगहबानी वीआइपी इलाके में इंटरसेप्टर वाहन घूम रही थी। इस वाहन में हाई डेफिनिशन नाइट विजन के साथ कैमरा लगा है। इस कैमरे से इलाके की हर गतिविधि पर कंट्रोल रूम में बैठे अधिकारी निगरानी कर रहे थे। बताया जा रहा है कि इलाके में लगी सीसीटीवी कैमरों को भी दुरुस्त कर कंट्रोल रूम से जोड़ा गया है। कंट्रोल रूम में भी पूरी चौकसी बरती जा रही है।

Posted By: Jagran