रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Teachers Transfer सरकारी स्कूलों के शिक्षकों का अंतर जिला या उनके आवेदन पर सामान्य स्थानांतरण अब अगले साल जून-जुलाई में ही हो पाएगा। फिलहाल राज्य सरकार स्कूलों की जरूरत के अनुसार स्वयं शिक्षकों का स्थानांतरण करेगी। इसके तहत स्कूलों में जरूरत से अधिक पदस्थापित शिक्षकों का स्थानांतरण दूसरे स्कूलों में किया जाएगा। यह स्थानांतरण इस साल नवंबर-दिसंबर माह में होगा। हालांकि स्थानांतरण की प्रक्रिया अभी ही शुरू होगी। स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने स्थानांतरण नीति में संशोधन के बाद शिक्षकों के स्थानांतरण को लेकर एसओपी जारी किया है, जिसमें इससे संबंधित समय सीमा तय कर दी गई है। इसके तहत शिक्षकों के स्थानांतरण को लेकर जिला स्थापना समिति द्वारा जोन के अनुसार स्कूलों को इस साल 30 जून तक अधिसूचित करना है।

छात्र-शिक्षक अनुपात 15 जुलाई तक होगा प्रकाशित

अधिसूचित स्कूलों में शिक्षकों के स्वीकृत पद, कार्यरत शिक्षक, रिक्त पद तथा छात्र-शिक्षक अनुपात 15 जुलाई तक प्रकाशित किया जाएगा। 10 अगस्त तक सभी प्रधानाध्यापकों व शिक्षकों की सूची स्कूल व जोन के अनुसार प्रकाशित की जाएगी। आवश्यकता से अधिक शिक्षक का संवर्गवार चयन एवं प्राथमिकता सूची का प्रकाशन पांच सितंबर तक होगा। जोन एक, दो तथा तीन में लगातार छह वर्षों से पदस्थापित शिक्षकों के प्रशासनिक स्थानांतरण हेतु सूची का प्रकाशन पांच अक्टूबर तक किया जाएगा। इसके बाद नवंबर-दिसंबर माह में आवश्यकता से अधिक चिन्हित शिक्षकों तथा प्रशासनिक आधार पर शिक्षकों का स्थानांतरण होगा। इसके तहत जोन एक, दो एवं तीन से चिन्हित सबसे अधिक अंक लानेवाले शिक्षकों तथा अधिकतम 20 प्रतिशत का स्थानांतरण जोन चार एवं पांच के स्कूलों में होगा। इसके बाद शिक्षकों के सामान्य स्थानांतरण व अंतर जिला स्थानांतरण की प्रक्रिया शुरू होगी।

सामान्य स्थानांतरण की प्रक्रिया ऐसे होगी पूरी

अगले साल फरवरी माह मे उन शिक्षकाें के सामान्य स्थानांतरण हेतु आवेदन लिए जाएंगे जो उक्त कैलेंडर वर्ष की पहली फरवरी 2023 को लगातार पांच वर्ष अथवा उससे अधिक समय की सेवा दे चुके हैं। इसी दौरान या इसके बाद पारस्परिक स्थानांतरण, असाध्य रोग से ग्रसित, दिव्यांग, महिला शिक्षिका एवं अन्य गंभीर परिस्थितियों वाले शिक्षक आवेदन दे सकेंगे। फरवरी माह तथा इसके बाद तीन साल सेवा पूरी करनेवाले शिक्षकों के अंतर जिला स्थानांतरण के लिए आवेदन लेकर अनुमोदन सहित अनुशंसा संबंधित निदेशालय काे अनुमति के लिए भेजी जाएगी।

अगले वर्ष अप्रैल में सामान्य स्थानांतरण प्रक्रिया

अगले साल अप्रैल माह में सामान्य स्थानांतरण हेतु विद्यालयवार रिक्त पदों की सूची एवं प्राथमिकता सूची का प्रकाशन किया जाएगा। इसके बाद मई माह में उसपर आपत्तियां लेकर निराकरण किया जाएगा। जून माह के प्रथम सप्ताह में आपत्तियों के निराकरण के बाद संशोधित सूची का प्रकाशित की जाएगी। जून के दूसरे सप्ताह में शिक्षकों के स्थानांतरण के लिए परामर्श कैंप का आयोजन किया जाएगा। 30 जून तक सामान्य स्थानांतरण सूची पर जिला या राज्य स्तरीय स्थापना समिति का अनुमोदन लिया जाएगा। जून-जुलाई में अंतर जिला स्थानांतरण पर निर्णय संबंधित प्राधिकार प्राथमिक या माध्यमिक शिक्षा निदेशालय द्वारा लिया जाएगा।

Edited By: M Ekhlaque