रांची, जासं। रांची में लगातार हो रही बारिश से जन-जीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त हो गया है। सड़कें तालाब में तब्‍दील हो गई है। कारें पानी में समा गई हैं। गुरुवार की रात से हो रही भारी बारिश के चलते राजधानी रांची के डैम लबालब हो गए हैं। गेतलसूद डैम में जल स्तर 34 फीट तक पहुंच जाने के बाद शनिवार को इस डैम के दो गेट खोलने पड़े। दोनों गेट दो-दो फीट खोलने पड़े हैं। कार्यपालक अभियंता का मानना है कि अभी भी लगातार बारिश हो रही है। डैम का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। इसलिए गेट के खुलने की दूरी दो-दो फीट से अधिक बढ़ाई जा सकती है। कांके डैम में खतरे का निशान 28 फीट तक है।

28 फीट पानी पहुंचने पर गेट खोल दिया जाता है। शुक्रवार की रात ही लगभग 9:30 बजे कांके डैम में 27 फीट पानी हो गया था। इसके बाद डैम की 18 इंच की पाइपलाइन खोल दी गई। इस पाइपलाइन से पानी बहाया गया। लेकिन इससे डैम के जलस्तर पर ज्यादा असर नहीं पड़ रहा था। इसके बाद डैम के दो फाटक खोलने का फैसला लिया गया। रात तकरीबन 10:30 बजे डैम के दो फाटक 6-6 इंच खोल दिए गए। हटिया और गेतलसूद डैम भी लबालब हैं। गेतलसूद डैम में 28 फीट पानी पहुंच गया है। जबकि हटिया डैम में अभी 24 फीट पानी है।

डैम में पानी भरने से अब राजधानी रांची में पेयजल की दिक्कत नहीं होगी। हटिया डैम में 38 फीट पानी आता है। यहां 38 फीट पानी भरने के बाद फाटक खोला जाता है। इस डैम में 24 फीट पानी हो गया है। हटिया डैम के कार्यपालक अभियंता सुरेश प्रसाद ने बताया कि अभी डैम में पर्याप्त जगह है। इसलिए चिंता की कोई बात नहीं है। हटिया डैम में अभी 28 फीट पानी है। डैम की क्षमता 36 फीट पानी की है।

बारिश होती रही तो भर जाएगा गेतलसूद डैम

गेतलसूद डैम के कार्यपालक अभियंता हालात पर बराबर नजर रखे हुए हैं। उन्होंने कहा कि हर घंटे डैम के जलस्तर पर नजर रखी जा रही है। एक घंटे में अमूमन 6 इंच पानी बढ़ रहा है। अगर इसी तरह बरसात होती रही तो शनिवार को डैम का गेट खोला जाएगा।

हटिया में रात से अब तक भर गया 8 फीट पानी

हटिया डैम में पिछले साल 30 फीट पानी था। इसमें से 14 फीट पानी अब तक खर्च हो चुका है। यह पानी पेयजल आपूर्ति पर खर्च किया गया। 16 फीट पानी बचा था। रात से हो रही बरसात से अब डैम में 24 फीट पानी हो गया है। यानी अब तक 8 फीट पानी बढ़ा है।

एक साल में 15 फीट तक पानी का है खर्च

हटिया डैम से एक साल में रांची को 14 फीट पानी की आपूर्ति होती है। डैम में 24 फीट पानी हो जाने से डैम में पर्याप्त पानी हो गया है। अगले साल पानी की कोई दिक्कत नहीं होगी। कार्यपालक अभियंता ने बताया कि अगले साल पानी की राशनिंग नहीं करनी पड़ेगी।

बारिश से सड़क तालाब में तब्दील, बांस की लकड़ी के सहारे आ रहा बिजली का तार गिरा नीचे

रांची के वार्ड नंबर 35 की अधिकतर सड़कों की हालत बहुत ही खराब है l लगातार हो रही बारिश से क्षेत्र की सड़कें तालाब में तब्दील हो गई हैं l न्यू दीपाटोली के रहने वाले समाज सेवी इरफान खान का कहना है कि सड़कों पर पानी भर गया है। इस कारण चलने वालों को गड्ढे का पता ही नहीं चल पा रहा है l पुंदाग की मुस्कान स्ट्रीट न्यू दीपाटोली का भी हाल बहुत खराब है l स्थानीय पार्षद से कई बार इसकी गुहार लगाई गई है। अभी तक पार्षद ने समस्याओं को हल करने के लिए कभी दिलचस्पी नहीं दिखाई है। पार्षद झरी लिंडा का कहना है कि निगम में फंड नहीं है। ऊपर से काम नहीं हो पा रहा है l

पार्षद झरी लिंडा इस क्षेत्र में काम करना तो दूर, कभी निरीक्षण करने भी नहीं पहुंचते हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि कई बार क्षेत्र की समस्याओं को लेकर पार्षद झिरी लिंडा से मुलाकात की गई। लेकिन वह सिर्फ आश्वासन देते हैं l काम कुछ नहीं करते हैं। क्षेत्र के लोग पार्षद से काफी नाराज हैं। वहीं विधायक नवीन जायसवाल भी इस क्षेत्र में कोई काम नहीं कराते। स्थानीय लोगों का कहना है कि आने वाले नगर निगम चुनावों में पार्षद तथा विधायक को सबक सिखाएंगे। न्यू दीपाटोली के समाजसेवी इरफान खान ने बताया कि पार्षद इस क्षेत्र की समस्याओं को लेकर कभी गंभीरता नहीं दिखाते हैं।

Edited By: Sujeet Kumar Suman