रांची, राज्य ब्यूरो । जमशेदपुर के एमजीएम अस्पताल में इलाज में लापरवाही के कारण महिला की मौत मामले में अब अगली सुनवाई को दो मार्च को होगी। इससे पहले झारखंड हाई कोर्ट में आज यह मामला चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध था। लेकिन सुनवाई टल गई। बता दें कि इस मामले में अदालत ने स्वतः संज्ञान लेकर पूरे मामले की जांच झालसा सचिव को सौंपी थी। आज इसकी जांच रिपोर्ट अदालत में सौंपी जानी चाहिए थी।

जमशेदपुर की रहने वाली एक महिला को उसके पति ने जला दिया था। उसे इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया। 90 फ़ीसदी से ज्यादा जली महिला का इलाज इमरजेंसी में किया जा रहा था जबकि बर्न यूनिट में किया जाना चाहिए। हाईकोर्ट के अधिवक्ता अनूप अग्रवाल ने इस संबंध में झारखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को ईमेल के जरिए पत्र लिखा था और पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी थी। जिसके बाद अदालत ने इस मामले में सुनवाई करते हुए जांच के आदेश दिए थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप