रांची : राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने पदाधिकारियों को आदिवासियों के लिए संचालित योजनाओं में तेजी लाने का निर्देश दिया है। उन्हें योजनाओं का पूरा लाभ मिल सके, इसका व्यापक प्रयास की जरूरत बताते हुए इस दिशा में काम करने की नसीहत दी। राज्यपाल मंगलवार को राजभवन में जनजातीय कल्याण विभाग की विभिन्न योजनाओं की समीक्षा कर रही थीं।

राज्यपाल ने इस क्रम में योजनाओं की निचले स्तर तक पहुंच बनाने के लिए क्षेत्रीय पदाधिकारियों की बड़ी भूमिका बताते हुए उनकी जवाबदेही तय करने का निर्देश विभागीय सचिव हिमानी पांडेय को दिया। कहा कि क्षेत्रीय पदाधिकारियों को आदिवासियों के लिए संचालित योजनाओं के प्रति पदाधिकारियों को समर्पित होने की जरूरत है। विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा के क्रम में राज्यपाल ने चिंता जताई कि आदिवासी बच्चों में विज्ञान विषय के प्रति रुचि नहीं है। ये बच्चे विज्ञान विषय में पीछे रह जाते हैं। राज्यपाल ने इसपर ध्यान देने तथा इसके लिए आवश्यक उपाय करने के निर्देश विभागीय पदाधिकारियोंको दिए।

--------------

नवंबर में राज्यपालों के सम्मेलन में होगी चर्चा :

नवंबर माह में नई दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में राज्यपालों के सम्मेलन में जनजातीय विकास से संबंधित मुद्दों पर चर्चा होनी है। राज्यपाल ने इसी की तैयारी के रूप में यह बैठक बुलाई थीं।

-----------------

एकलव्य स्कूलों में सीबीएसई माध्यम से होगी पढ़ाई :

समीक्षा के क्रम में विभागीय सचिव ने राज्यपाल को बताया कि विभाग द्वारा अनुसूचित जनजाति के लिए 23 तथा अनुसूचित जाति के लिए चार विद्यालय संचालित हैं। बताया कि एकलव्य विद्यालयों में सीबीएसई माध्यम से पढ़ाई की तैयारी की जा रही है। विभाग द्वारा पूर्व में प्रति छात्र 42,000 रुपये खर्च किए जाते थे। अब इसे बढ़ाकर 1 लाख 5 हजार रुपये कर दिया गया है। ये विद्यालय स्मार्ट क्लास, कम्प्यूटर लैब एवं पुस्तकालय से भी युक्त होंगे।

-------------

गुरुकुल के 450 विद्यार्थियों को विदेशों में नौकरी :

राज्यपाल को बताया गया कि राज्य में संचालित 25 गुरुकुल में पढ़ाई करनेवाले 450 छात्रों को विदेशों में नौकरियां मिली हैं। गुरुकुल में 60 फीसद से अधिक छात्र आदिवासी समुदाय के हैं। वहीं, चान्हो नर्सिग स्कूल की 55 छात्राओं को अपोलो, कोलकाता में 15 हजार रुपये प्रतिमाह वेतन पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

----------------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस