रांची, जासं। राजेश नायक हत्याकांड में पुुलिस ने दो को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। ये आरोपित हैैं नामकुम चाय बगान निवासी रुपेश सिंह और बरगांवा निवासी दिनेश सिंह। एसएसपी अनीश गुप्ता ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर इसका खुलासा किया। एसएसपी ने बताया कि राजेश नायक ने संजय नायक की हत्या की सुपारी ली थी। लेकिन पलट कर संजय नायक ने ही राजेश की गोली मारकर हत्या कर दी।

दरअसल राजेश संजय नायक से ही हथियार लेकर उसी को मारने वाला था। इसकी जानकारी राजेश के करीबी दोस्त रूपेश ने संजय को वाट्सएप कॉल कर दे दी। राजेश को मारने के लिए संजय पहले से तैयार बैठा था। वहां जैसे ही राजेश पहुंचा, उसपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर हत्या कर दी। इस दौरान राजेश को रूपेश ने पकड़ कर रखा था। संजय, दिनेश और दो अन्य अपराधियों ने फायरिंग भी की थी। घटना के बाद सभी फरार हो गए थे।

केस से बचाने का जिम्मा लेकर उल्टा ले ली सुपारी

संजय नायक और राजेश नायक की जेल में दोस्ती हुई थी। लेकिन बाद में जेल से छूटकर राजेश ने संजय नायक को ही मारने के लिए दस लाख रुपये में सुपारी ले ली थी। वहीं राजेश नायक जिस रूपेश को करीबी दोस्त मानता था वह साथ रहकर भी दुर्भावना रखता था।

चूंकि जमीन का सारा काम रूपेश के नाम से ही करता था। हाल में एक जमीन की डील पर 35 लाख देने का वादा किया था। लेकिन दस लाख रुपये ही दिया था। कई अन्य जमीनों पर भी पैसे का बकाया था। इसके अलावा रूपेश संजय नायक का स्कूल का दोस्त भी था। इस वजह से उल्टे राजेश की ही संजय से हत्या करा दी।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप