रांची, राज्य ब्यूरो। राज्य के अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यकों के कल्याणार्थ लिए गए फैसले के बाद बुधवार को कल्याण विभाग ने इससे संबंधित अधिसूचना जारी कर दी है। जारी अधिसूचना में अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक तथा पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के अधीन संचालित विद्यालयों के चुनिंदा 400 विद्यार्थियों को मेडिकल और इंजीनियरिंग की कोचिंग प्रदान करना, संबंधित वर्ग के युवाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए 25 फीसद अनुदान पर ऋण मुहैया कराना तथा कृषि क्षेत्र के 15 सेक्टरों में प्रशिक्षण देकर युवाओं को आजीविका से जोडऩा शामिल है।

अधिसूचना के मुताबिक आवासीय विद्यालयों में अध्ययनरत बच्चों का चयन प्रतियोगिता परीक्षा के माध्यम से होगा। नौवीं से 12वीं तक प्रत्येक कक्षा से 100-100 विद्यार्थियों का चयन इस योजना के तहत होगा। बताते चलें कि विभाग स्तर से संचालित 69 उच्च तथा प्लस टू विद्यालयों में कुल 58 सौ विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। इसी तरह संबंधित वर्गों के सहकारी वित्त एवं विकास निगम से ऋण लेने वाले लाभुक अगर कुल राशि का 75 फीसद हिस्सा ससमय वापस कर देंगे तो सरकार उनका शेष 25 फीसद राशि माफ कर देगी।

तीसरी अधिसूचना संबंधित वर्ग के युवाओं की आजीविका से संबंधित है। इसके तहत संबंधित वर्ग के युवाओं को जैविक खाद उत्पादन, खाद्य प्रसंस्करण, मशरूम की खेती तथा मधुमक्खी पालन, जैविक खेती एवं बीज उत्पादन, हॉर्टीकल्चर, बागवानी सह माली प्रशिक्षण, मुर्गी सह बतक पालन, डेयरी, मत्स्य पालन, मिट्टी जांच तथा पंप रिपेयरिंग आदि का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इनके लिए प्रशिक्षण की अवधि डेढ़ महीने से एक वर्ष तक की होगी।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस