रांची/ओरमांझी, जासं। भाजपा के एसटी मोर्चा के ग्रामीण जिलाध्यक्ष जीतराम मुंडा की हत्या के दूसरे दिन पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास और सांसद संजय सेठ स्वजनों से मिलने पहुंचे। जीतराम के स्वजनों से मिलकर घटना के प्रति दुख जताया। रघुवर दास ने कहा कि चिंता नहीं करें, हम आपके साथ हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं को कहा कि जीतराम के परिवार को किसी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए। किसी तरह की दिक्कत हो तो मुझे बताएंगे। उन्होंने कहा कि जीतराम के परिवार को तत्काल एक लाख रुपये दिए जाएंगे।

वहीं सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि सरकार है ही कहां। इसको सरकार कहते हैं क्या। वहीं सांसद संजय सेठ ने भी घटना की निंदा की। परिजनों से मिलकर उन्हें ढाढस बंधाया। कहा कि वो उनके साथ हैं। इधर, जीतराम के स्वजनों ने कहा कि हमलोगों को पैसे की जरूरत नहीं है। हमें न्याय चाहिए। बताया जा रहा है कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश भी जीतराम के परिजनों से मिलने के लिए पहुंचने वाले हैं।

 सोशल मीडिया पर भी मिल रही प्रतिक्रिया

विधायक सीपी सिंह ने घटना के बाद ट्विवटर पर पोस्ट कर आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की थी। लिखा था कि भाजपा रांची ग्रामीण के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष जीतराम मुंडा की अपराधियों द्वारा हत्या राज्य की चौपट विधि व्यवस्था का सीधा उदाहरण है। अपराधियों में सरकार का भय बिल्कुल खत्म हो चुका है। सरकार अविलंब दोषियों को गिरफ्तार करे। राज्यसभा सदस्य महेश पोद्दार ने ट्विवटर पर लिखा कि घटना राज्य की ध्वस्त विधि व्यवस्था का उदाहरण है। अपराधियों का मनोबल चरम पर है,जनता असुरक्षित महसूस कर रही। जनता का धैर्य जवाब दे, इसके पहले कानून के राज की मौजूदगी का एहसास कराए राज्य सरकार।

जीतराम मुंडा की हत्या राजनीति प्रेरित

ओरमांझी पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने एसटी मोर्चा जिला अध्यक्ष जीतराम मुंडा की हत्या को राजनीति से प्रेरित हो की गई हत्या बताया। उन्होंने अब सरकार को समय नहीं देने की बात कही और कहा कि अपराधियों को गिरफ्तार करने और सजा दिलाने के लिए भारतीय जनता पार्टी आंदोलन करेगी। आज बैठक कर इसकी रणनीति तैयार की जाएगी।

 

Edited By: Kanchan Singh