रांची, जासं। रेलवे में नौकरी और ठेका दिलाने के आरोपित को डोरंडा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित हिनू गौरी शंकर कॉलोनी निवासी प्रताप कुमार है। मूल रूप से कोलकाता का रहने वाला है। उसके खिलाफ दर्जनों लोगों ने करीब पांच लाख रुपये की ठगी का आरोप लगाकर एफआइआर दर्ज कराई थी। पुलिस ने प्रताप को जेल भेज दिया है। पुलिस के अनुसार नौकरी और ठेका नहीं मिलने पर रविवार की सुबह आक्रोशित लोग प्रताप के घर पहुंचे थे। वहां हंगामा किया।
ठगी के शिकार लोगों को जानकारी मिली थी कि प्रताप ठगी के बाद शहर छोडऩे वाला है। घर पहुंचकर लोगों ने हंगामा किया और प्रताप की धुनाई भी की। सूचना मिलने पर वहां पहुंची पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। मामले में ठगी के शिकार मनोज कुमार ने डोरंडा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है।
रेलवे में पहुंच होने की बात कहकर लोगों से ठगा
आरोपित प्रताप ने उस इलाके के लोगों को रेलवे में पहुंच होने की बात कहकर झांसे में लिया और ठगी की। किसी से 12 हजार रुपये लिया तो किसी से 50 हजार रुपये। यह राशि आरोपी ने किश्त के रूप में उनसे ली। करीब एक साल तक नौकरी व ठेका नहीं मिलने पर पीडि़तों ने आरोपित पर रकम वापस करने का दबाव बनाया। लगातार टालमटोल करने पर लोगों का सब्र टूटा, इसके बाद सभी उसके घर पहुंच गए।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप