रांची, जेएनएन। Jharkhand Lok Sabha Election 2019 - लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में सोमवार को झारखंड की चार सीटों रांची, खूंटी, हजारीबाग और कोडरमा में वोटिंग हुई। यहां से 6587028 मतदाताओं ने 61 उम्‍मीदवारों के भाग्‍य का फैसला ईवीएम में कैद कर दिया।

राज्‍यपाल द्रौपदी मुर्मू ने भी वोट दिया। साथ में हैं रांची के डीसी महिमापत रे व एसडीओ गरिमा सिंह।

सिमडेगा के ठाकुरटोली बूथ में तेज धूप में छाता लगाकर खड़े मतदाता।

काली चरण्‍ा मुंडा अपने परिवार के साथ और हेमंत सोरेन अपनी पत्‍नी के साथ।

हजारीबाग में विवाह की रस्‍म से पहले इन युवतियों ने मतदान का फर्ज अदा किया।

राजस्‍व अधिकारी त्रिपुरारी पाठक दमन और दीव से छुट्टी लेकर वोट देने रांची आए। अपनी पत्‍नी और मां रेणु देवी के साथ।

रांची के नगड़ी में वोट डालने के लिए अपनी बारी का इंतजार करते कतारबद्ध मतदाता।

सिमडेगा उपायुक्त विप्रा भाल, खूंटी डीसी सूरज कुमार, हजारीबाग उपायुक्त रविशंकर शुक्ला अपनी धर्मपत्नी  नेहा अरोड़ा के साथ और तीरंदाज मधुमिता ।

मुख्य निर्वाचन आयोग परिवार के साथ, डीजीपी डीके पांडेय, कृषि सचिव पूजा सिंघल और मुख्‍य सचिव डीके तिवारी।

सौरभ कुमार सिन्हा का आज विवाह है। उन्‍होंने अपने पिता विनोद कुमार सिन्हा, मां रेणु सिन्हा और छोटी बहन रिम्मी सिन्हा के साथ शादी की रस्‍म से पहले मतदान किया।

 

फर्स्‍ट टाइम वोटर। निर्मला, सुप्रिया देवघरिया, कडरू की एक युवती और नेहा।

8834 पोलिंग बूथों पर 39909 मतदानकर्मी चुनाव प्रक्रिया में शामिल रहे। हजारीबाग में जयंत सिन्हा, गोपाल साहू समेत 16 उम्‍मीदवारों का भाग्य मतदाताओं ने ईवीएम में कैद कर दिया है। यहां 2,274 बूथों पर वोट डाले गए। कोडरमा आैर खूंटी के संवेदनशील और नक्‍सल प्रभावित इलाके के बूथों पर मतदान के लिए सुरक्षा की चाक-चौबंद व्‍यवस्‍था की गई।

खूंटी लोकसभा सीट पर पूर्व मुख्‍यमंत्री अर्जुन मुंडा की साख दांव पर है। कड़‍िया मुंडा की विरासत बचाने के संघर्ष में उनके सामने कांग्रेस के प्रत्‍याशी और राज्‍य सरकार में मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा के बडे भाई कालीचरण मुंडा मैदान में हैं। कोडरमा में पूर्व मुख्‍यमंत्री व जेवीएम के अध्‍यक्ष बाबूलाल मरांडी एवं भाजपा प्रत्‍याशी एवं पूर्व मंत्री अन्‍नपूर्णा देवी की साख की परख हो रही है। 

हजारीबाग में चीची कला से तीन किलोमीटर पैदल चलकर वोट देने जाते ग्रामीण।

लोकतंत्र के महापर्व का उत्साह मतदान को लेकर पूरे जिले में उत्साह का माहौल है। रांची में प्रतिष्‍ठा की लडाई में त्रिकोणीय मुकाबले के आसार दिख रहे हैं। कांग्रेस के कद्दावर प्रत्‍याशी सुबोधकांत सहाय के मुकाबले में भाजपा के संजय सेठ दम भर रहे हैं। रामटहल चौधरी भी मैदान में डटे हैं।

दिव्यांग मतदाता भी दिखा रहे उत्साह
हजारीबाग लोकसभा क्षेत्र के 2274 मतदान केंद्रों पर मतदान हुआ। इन सबके बीच दिव्यांग मतदाता भी किसी से पीछे नहीं है। पैरों से लाचार दिव्यांग मनोहर कुमार दास सुबह 7:00 बजे ही दारू में मतदान केंद्र संख्या 421 में अपना मतदान किया। पहली बार मतदान देने के बाद बताया कि उन्होंने अपना वोट देश हित के लिए किया है।

इसी तरह दारू में दिव्यांग अर्जुन महतो को उनके परिजन गोद में उठाकर वोट दिलाने पहुंचे। मतदान के प्रति अर्जुन काफी उत्साहित हैं। दिव्यांग मतदाताओं के लिए जिला निर्वाचन पदाधिकारी के द्वारा विशेष व्यवस्था की गई है। 500 बूथों पर व्हील चेयर की व्यवस्था है। 325,318,220 मशीन खराब  होने के कारण सुबह से कतार में लगे लोग वापस जा रहे हैं। बूथ पर बैठे कर्मचारियों को ईवीएम मशीन की कोई जानकारी नहीं है।

सीपी सिंह, अर्जुन मुंडा अपनी पत्‍नी के साथ, बाबूलाल मरांडी की मां के साथ उनका परिवार और राजकुमार यादव।

संजय सेठ अपने परिवार के साथ, सुबोध कांत सहाय अपने परिवार के साथ, रामटहल चौधरी और एसटीएफ डीआइजी साकेत कुमार सिंह अपनी पत्नी के साथ।

सिमडेगा जिले के केरसई में वोट डालने जाते विरहोर समुदाय के लोग।

खूंटी संसदीय क्षेत्र और खरसावां  विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले पश्चिमी सिंहभूम जिले के खूंटपानी प्रखंड के बड़ाचीरू, बड़ागुन्टिया, भोया, दोपाई, केयाडचलोम, लोहरदा, मटकोबेड़ा, पूरुनियां, रूईडीह, कुलीराजाबासा के पंचायत वासियों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। कुल 42,455 मतदाताओं में 21,781 महिलाएं और 20,674 पुरुष शामिल हैं।

शिक्षा मंत्री नीरा यादव अपने पति विजय यादव के साथ, हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल एवं उनकी पत्नी निशा जायसवाल और रामगढ़ एसपी निधि द्विवेदी।

रांची लोकसभा सीट के लिए सोमवार को शुरू हुए मतदान में ईचागढ़ व कपाली क्षेत्र के मतदाताओं में खासा उत्साह देखा गया। सुबह-सुबह ही विभिन्न मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी कतार लग चुकी थी। नतीजा यह रहा कि सुबह दो घंटे में ही ईचागढ़ विधानसभा क्षेत्र में 16 फीसद मतदान हो चुका था।

कपाली नगर पंचायत इलाके के 22 मतदान केंद्रों में कपाली के अलकबीर पॉलीटेक्निक कॉलेज मतदान केंद्र के बूथ संख्या 328 व 330 में इवीएम में तकनीकी खराबी के चलते 40-45 मिनट विलंब से मतदान शुरू हुआ। मशीन खराब होने की वजह से यहां मतदाताओं ने हंगामा किया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप