रांची, [नीलू मिश्रा]। झारखंड के स्ट्रीट फूड में बड़ा खास है लिट्टी-चोखा। वह भी गरम-गरम। राजधानी रांची से लेकर समूचे झारखंड में यह सड़क किनारे के स्‍टॉल-ढाबे से शुरू होकर बड़े होटलों के मेनू में शामिल दिखता है। रांची का बाबा लिट्टी भंडार के लिट्टी चोखा की तो बात ही निराली है। यहां जो एक बार बाबा की लिट्टी खाता है, अपनी अंगुलियां चाटता रह जाता है। यहां जाने-माने  सैफ संजीव कपूर ने भी लजीज लिट्टी - चोखे का स्वाद चखा था। तब उन्‍होंने इसके स्‍वाद की काफी तारीफ की थी। आइए जानते हैं कहां है यह खास दुकान, जिसकी दूर तलक है लोकप्रियता... 

अपर  बाजार स्थित ईस्ट गली  जो बाबा गली के नाम से भी जाना जाता है , यहां 1969 से एक पेड़ के नीचे विशालकाय चबूतरे पर सजती है बाबा सीताराम चौरसिया की  लिट्टी - चोखे की दुकान। बाबा अब 90 साल के हो गए हैं , आंख से दिखाई कम देती है ,सो व्यापार अब उनके बेटे सुनील चौरसिया चलाते हैं । शुद्धता और गुणवत्ता  अब भी बरकरार है।

ये आटे, सत्तू, घी शुद्ध स्वनिर्मित रखते है. दिन के 1:00 बजे से रात के 10:00 बजे तक यहां लिट्टी - चोखा का स्वाद लेने को भीड़ लगी रहती है। लिट्टी के मुरीद  कुछ लोगों   ने कहा बरियातू, कांके रोड से वे छुट्टी के दिन लिट्टी चोखा का स्वाद लेने यहां पहुंचते हैं। यहां दो तरह की लिट्टी बनती है एक सादा और एक घी में डुबोया हुआ। पर्यावरण का खास ख्याल रखते हुए पत्ता के दोने में लिट्टी के साथ चोखा टमाटर की चटनी, धनिया की चटनी साथ ही  बारीक कटे हुए प्याज डालकर परोसा जाता है जो लोगों को काफी पसंद है।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस