रांची, जागरण संवाददाता। बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से उड़ान भरने के 12 मिनट बाद ही इंडिगो की फ्लाइट संख्या 6ई -398 को इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी। इस दौरान 132 यात्रियों की सांसें हवा में अटकी रही। जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह 11 बजे रांची से दिल्ली जा रही फ्लाइट के गियर में हाइड्रोलिक खराबी हो जाने के कारण उड़ान को रद करना पड़ा।

इस खराबी के कारण विमान का अगला चक्का हवा में बंद नहीं हो पा रहा था। इसकी जानकारी होते ही पायलट ने एटीसी को सूचना दी। एटीसी से अनुमति मिलते ही पायलट ने विमान की सुरक्षित लैंडिंग कराई। फिर आनन-फानन में विमान को वापस रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर ग्राउंडेड कराया गया। अगर समय रहते विमान को नीचे उतारने का निर्णय नहीं लिया जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था।

विमानन कंपनी द्वारा उड़ान को रद करने के बाद यात्रियों ने जमकर हंगामा किया। यात्री दूसरे विमान की व्यवस्था करने की बात कर रहे थे। उनका कहना था कि वे अगली फ्लाइट से ही जाएंगे। इस पर विमानन कंपनी के पदाधिकारियों ने असमर्थता जताई। इस पर क्विक रिस्पांस टीम बुलाई गई।

टीम ने यात्रियों से बात कर उन्हें मनाया। हालांकि कुछ यात्री दूसरी फ्लाइट से नई दिल्ली गए। लेकिन अधिकतर यात्रियों को अगले दिन का इंतजार करना पड़ा। कुछ ऐसे भी रहे जिन्होंने अपना टिकट कैंसिल करा दिया। एयरपोर्ट आथरिटी के अनुसार विमान में आई तकनीकी खराबी के कारण विमान को रद करना पड़ा।

 उल्लेखनीय है कि इंडिगो के विमान में गड़बड़ी आने की यह पहली घटना नहीं है। पहले भी कई बार इंडिगो के विमान में इस तरह की तकनीकी खराबियों के कारण उड़ानें रद करनी पड़ी हैं। इंडिगो के मैनेजर रिजवान इस बारे में किसी भी तरह की जानकारी देने से इंकार करते रहे।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस