रांची, जागरण संवाददाता। राजधानी के हाई सिक्योरिटी जोन मोरहाबादी में अब कोई भी दुकान नहीं लगेगी। जिला प्रशासन के आदेश पर नगर निगम इस इलाके से सारी दुकानें हटवाने जा रहा है। प्रशासन की ओर से क्षेत्र में निषेधाज्ञा (धारा 144) लागू दी गई है। इसके लिए शुक्रवार की शाम मोरहाबादी इलाके में रांची नगर निगम की तरफ से लाउडस्पीकर से घोषणा करा दी गई। दुकानदारों को दुकान हटाने के लिए 24 घंटे की मोहलत दी गई है। अगर दुकानदारों ने इस दौरान दुकानें नहीं हटाईं तो रांची नगर निगम खुद बुलडोजर लगाकर सभी दुकानों को हटा देगा।

गोलीबारी के बाद लिया गया फैसला

गौरतलब है कि गुरुवार को मोरहाबादी के इस इलाके में दिनदहाड़े गोली मारकर कुख्यात बदमाश राजू लामा की हत्या कर दी गई थी। जिस इलाके में राजू लामा मारा गया, वहां पूर्व मुख्यमंत्री शिबू सोरेन के अलावा कई मंत्रियों और अधिकारियों के बंगले हैं। इलाका काफी हाई सिक्योरिटी वाला माना जाता है। हत्या की इस घटना के बाद पुलिस और प्रशासन ने इस इलाके को पूरी तरह से सुरक्षित बनाने की कवायद शुरू कर दी है। अधिकारियों की बैठक में तय हुआ है कि इस इलाके में अब दुकानें नहीं रहें। दुकानें रहने से लोगों की आवाजाही बनी रहती है और पुलिस किसी को रोक नहीं पाती। इस इलाके में मोरहाबादी मैदान रोड पर खाने-पीने के होटलों के अलावा फूड वैन, फलों की दुकानें, चाय की दुकानें आदि की भरमार है। क्षेत्र सुबह से ही गुलजार हो जाता है। सुबह टहलने वालों की भीड़ लगती है, तो देर रात तक खाने पीने की दुकानें सजी रहती हैं। अधिकारियों का कहना है कि इसी का फायदा उठाकर अपराधी इलाके में घुसपैठ करते हैं और आपराधिक घटना को अंजाम देते हैं। इसीलिए अब दुकानों को हटाने का फैसला लिया गया है।

बुधवार और शनिवार को लगेगा साप्ताहिक बाजार

रांची नगर निगम ने साफ किया है कि सिर्फ बुधवार और शनिवार को सब्जी का साप्ताहिक बाजार लगाया जाएगा। अभी यह साप्ताहिक बाजार कोरोना की गाइड लाइन के चलते रात आठ बजे तक ही चलता है। बताते हैं कि इसी बाजार की नीलामी के झगड़े में राजू लामा की हत्या की गई है।

Edited By: Madhukar Kumar